शुक्रवार, 7 अप्रैल 2017

3G Vs VoLTE and LTE Explain [Hindi]

3G-Vs-VoLTE-and-LTE-Explain
हैलो दोस्तो कैसे है आप सब। हम सब मोबाईल का इस्तेमाल करते है और आजकल तो लगभग सभी लोग स्मार्ट फोन का इस्तेमाल करते है। जब से जियो आया है तब से स्मार्टफोन धारको की संख्या काफी तेजी से बढी है।, और जो पुराने समार्टफोंन यूजर है वे 4 सेट का इस्तेमाल करना शुरु कर दिये
है। और जो 4G MOBILE नही ले पाये है वे 4G राउटर के प्रयोग से 4G का इस्तेमाल कर रहे है, जब 4G नही आया था तब तक 3G नेटवर्क ही
भारत में सबसे तेज माना जाता था। लेकिन आाखिर यह 2G, 2.5G, 3G, 4G क्या है।
तो चलिये शुरु करते हैं
--------------------------------------------------------
इन्हें भी पढ़े 
जानिए गोर्रिला ग्लास की सच्चाई
इन्टरनेट स्पीड की सच्चाई
फेसबुक auto liker का काला सच
विंडोज का registry editor एक मैजिक विंडोज
विंडोज run कमांड software को start करने का आसान  रास्ता
bold italic अब whatsapp में भी
एंड्राइड मोबाइल के 50 सीक्रेट कोड
--------------------------------------------------------

1G Network - Year 1981

सभी नेटवर्क में प्रयोग किया जाने वाला जी का मतलब जेनरेशन होता है। सबसे पहले हम शुरु करेंगे 1G से|  1G के समय में मोबाईल से केवल काल करना ही संभव था। इसको फर्स्ट  जनरेशन कहा गया। इस फोन पर केवल  Nordic Mobile Telephony (NMT) और  Advanced Mobile Phone Service (AMPS)  सेवा ही उपलब्ध था जिससे केवल वायस काल करना ही संभव था। यह सभी एनालाग सर्विस था।

2G Network - Year 1992

सेकेन्ड जेनेरेशन के मोबाईल नेटवर्क में वायस काल के डाटा ट्रान्सफर  करने की सुविधा भी उपलब्ध हो गई क्योकि यह एक डिजिटल सेल्युलर सिस्टम था। इस पर 1 से बेहतर वायस क्वालिटी थी। इस पर Code Division Multiple Access(CDMA), Global System for Mobile communications(GSM), Time-division multiple access (TDMA) सर्विस उपलब्ध थी। इस सर्विस के साथ आप टेक्स्ट मैसेज या एसएमएस भी भेज सकते थे।

--------------------------------------------------------
इन्हें भी पढ़े 
--------------------------------------------------------

2.5G Network

जब सेकेन्ड जेनेरेशन के मोबाईल नेटवर्क को थोडा अपग्रेड किया गया। जिससे वायस क्वालिटि, और डाटा ट्रान्सफर  की रेट बढ गई। इसमें  General Packet Radio Service(GPRS),  Enhanced Data rates for GSM Evolution(EDGE) lfoZl का प्रयोग होता है। आज भी कम्पनीया हमें जो 2 डाटा प्लान देती है वह इसी नेटवर्क का होता है। तथा वायस काल भी हमें इसी नेटवर्क का उपलब्ध कराती है। इस सर्विस के भी साथ आप टेक्स्ट मैसेज या एसएमएस भी भेज सकते है। इसमें डाटा की दर 56Kbps से 114Kbps होती है  


3G Network - Year 2004

यह नेटवर्क थर्ड जेनेरेशन का है इस पर हमें काफी तेज डाटा ट्ान्सफर की दर और उच्च् क्वालिटि की वायस सर्विस प्रापत होती है। इस जेनेरेशन के मोबाईल और नेटवर्क होने पर हम वायस काल की जगह विडियो काल भी बडी आसानी से कर सकते है वो भी बिना इन्टरनेट के। इस जेनेरेशन के आने बाद भारत के सभी मोबाईल मार्केट से लगभग हट गये और एंड्राइड  बेस्ड स्मार्टफोन आ गये। क्योकि इनमें  वायस काल, विडियो काल, और इन्टरनेट की सुविधा के साथ 2 तथा 2.5 नेटवर्क के सिम कार्ड को भी सपोर्ट करते थे। इसमें डाटा की ट्रान्सफर  की दर  14-20 Mbps होती है। 
यह नेटवर्क ॅWideband Code Division Multiple Access(WCDMA), Universal Mobile Telecommunications Service(UMTS)  का प्रयोग करते है। जिससे वायस क्वालिटी, और विडियो काल संभव हो सका, और आप लाइव टीवी भी देख सकते है। तथा विडियो वेबसाइटो से हाई डीफिनेशन की विडियो को बिना रुके देख सकते है। 

3G Netwok की विशेषताए 

  • 2G नेटवर्क को भी सपोर्ट करता है 
  • 2G से बेहतर वायस क्वालिटी 
  • हाई ट्रान्सफर डाटा रेट 
  • विडियो कालिंग बिना इन्टरनेट के 
--------------------------------------------------------
इन्हें भी पढ़े 
जानिए गोर्रिला ग्लास की सच्चाई
इन्टरनेट स्पीड की सच्चाई
फेसबुक auto liker का काला सच
विंडोज का registry editor एक मैजिक विंडोज
विंडोज run कमांड software को start करने का आसान  रास्ता
bold italic अब whatsapp में भी
एंड्राइड मोबाइल के 50 सीक्रेट कोड
--------------------------------------------------------

4G Network - Year 2011

यह मोबाईल नेटवर्क का चैथा जेनेरेशन है इसीलिये इसे 4 कहा जाता है। इस पर Voice Over Long Term Evolution (VoLTE) , Long Term Evolution (LTE) की सुविध मिलती है। LTE नेटवर्क पर वायस काल करने की सुविधा ही VoLTE कहलाती है। यह काल के कनेक्टीविटी को बढाता है, और वायस काल के समय बेहतर क्वालिटी मिलता है। और 3G की तरह लेकिन उससे बेहतर क्वालिटी में विडियो काल की सुविधा देता है। 

LTE नेटवर्क 

बगैर 3G और 2G नेटवर्क के सर्विस का इस्तेमाल किये ही डायरेक्ट ही 4G नेटवर्क का इस्तेमाल करने देता है। LTE  एक  High-Speed Wireless Communication  सिस्टम है जिसका इस्तेमाल 4G Network के साथ मोबाईल कम्यूनिकेशन के लिये होता है। 

Working of LTE System

यह डाउनलिंक और अपलिंक नामक दो रेडियो लिंक के साथ कार्य करता है। जो वायस या डाटा नेटवर्क टावर से मोबाईल में आता है उसे डाउनलिंक कहते है तथा जो मोबाईल से नेटवर्क में वायस या डाटा भेजा जाता है वह अपलिंक कहलाता है। 
4 नेटवर्क LTE  सिस्टम का प्रयेाग करता है जिससे हमें 100 Mbps स्पीड की इन्टरनेट मिलती है। जो 3G से पाॅच गुना तेज है।

4G Netwok की विशेषताए 

  • 2Gऔर 3G से बेहतर वायस क्वालिटी 
  • 3G से लगभग 5 गुना हाई ट्रान्सफर डाटा रेट 
  • HD विडियो कालिंग बिना 3G नेटवर्क के 
  • Voice Over Long Term Evolution (VoLTE)
  • 3G से पाॅच गुना तेज इन्टरनेट स्पीड 
  • 4G नेटवर्क का यूज़ करने पर बैटरी का बैकअप ज्यादा मिलाता है 
  • 2G और 3G मुकाबले कॉल जल्दी कनेक्ट हो जाता है 
--------------------------------------------------------
इन्हें भी पढ़े 
जानिए गोर्रिला ग्लास की सच्चाई
इन्टरनेट स्पीड की सच्चाई
फेसबुक auto liker का काला सच
विंडोज का registry editor एक मैजिक विंडोज
विंडोज run कमांड software को start करने का आसान  रास्ता
bold italic अब whatsapp में भी
एंड्राइड मोबाइल के 50 सीक्रेट कोड
--------------------------------------------------------

Note :- 

तो दोस्तो मेरा यह पोस्ट कैसा लगा हमें जरुर बताईयेगा। आशा है जरुर पसंद आया होगा | आप हमारे ब्लाग को फ्री में सब्सक्राइब करें, और पाये विभिन्न लेटेस्ट अपडेट। पोस्ट अच्छा लगे तो अपने दोस्तों के साथ फेसबुक, ट्विटर पर शेयर करे, आज के लिए  सिर्फ इतना ही ।
धन्यवाद

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें