बुधवार, 5 अप्रैल 2017

File System NTFS Vs FAT32

Leave a Comment

हैलो दोस्तो कैसे है आप सब आज हम बात करेंगे  फाइल सिस्टम का आप मे
NTFS VS FAT32 file system
से बहुत से लोग जानते होगे कि फाइल सिस्टम क्या है, यदि आप जानते है तो ठीक है अच्छी बात है,
और यदि नही जानते है तो हम आपको बतायेंगे की यह क्या है। कैसे काम करता है NTFS और FAT में क्या अन्तर है, और दोनो में से किस पर ओएस इन्स्टांल करना बेहतर है। तथा NTFS को FAT32 में कैसे कनवर्ट किया जा सकता है। क्यो विन्डोज की पहली पसंद NTFS फाइल सिस्टम है। तो चलिये शुरु करते है।
-----------------------------------------------------------------------------------------------------------------

NFTS Vs FAT 

Whats is File System

आपरेटिंग सिस्टम को हार्डडिस्क या किसी भी ड्राइव  पर डाटा को स्टोर करने और उसे मैनेज करने के सबसे आसान तरीके को फाइल सिस्टम कहते है तथा इसके साथ यह भी निर्दिष्ट करता है कि ड्राइव में डाटा में किस प्रकार की जानकारी, परमिशन, और अन्य atribute  शामिल किये जा सकते है। फाइल सिस्टम विभिन्न प्रकार के डाइव के लिये अलग अलग होता है। जैसे छोटे डा्इव या पेन डाइव के लिये Fat32, बडे डाइव और विन्डोज ओएस के लिये NTFS एवं लाइनक्स करनेल के लिये EXT का प्रयोग किया जाता है।  जैसे मैक ओएस सिर्फ NTFS फाइल सिस्टम को रीड कर सकता है, इस फाइल सिस्टम में कुछ लिख नही सकता। इसी प्रकार लाइनक्स के कुछ वर्जन ही NTFS में कुछ भी लिखने को सपोर्ट करते है। 
कुछ प्रचलित फाइल सिस्टम

  • FAT12, FAT16, FAT32-windows oprating सिस्टम के लिए 
  • NTFS- All windows
  • EXT1, EXT2,EXT3.EXT4 - for Linex
  • UFS – Debian GNU
  • XFS – RHEL 7, CentOS 7



NTFS File System

इसका पूरा नाम New Technology File System  है। यह सबसे आधुनिक फाइल सिस्टम है। यह सबसे पहले विन्डोज एनटी के साथ मार्केट में माइक्रोसाफ्ट के द्वारा लांच किया गया। इसके पहले विन्डोज के पुराने वर्जनो के साथ FAT32 फाइल सिस्टम का प्रयोग किया जाता था। लेकिन विन्डोज एक्सपी के साथ यह नया फाइल सिस्टम लोगो के बीच काफी लोकप्रिय हो गया। 
इस फाइल सिटम की खास बात यह है कि यदि कोई फाइल करप्ट हो जाती है या पावर फेल्योर हो जाती है तो यह खुद ब खुद ही इसे रिपेयर कर सकता है। अन्य फाइल सिस्टम जैसे FAT32 नही कर सकता है। यदि आप अपने पीसी में एक बडे हार्डउिस्क के साथ विन्डोज को इन्स्टाल करने की येाजना बना रहे है तो आपको अपने हार्डडिस्क का पार्टीशन FAT32 फाइल सिस्टम पर ही करना चाहिये। 

FAT file System

------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
इन्हें भी पढ़े 
जानिए गोर्रिला ग्लास की सच्चाई
इन्टरनेट स्पीड की सच्चाई
फेसबुक auto liker का काला सच
विंडोज का registry editor एक मैजिक विंडोज
विंडोज run कमांड software को start करने का आसान  रास्ता
bold italic अब whatsapp में भी
एंड्राइड मोबाइल के 50 सीक्रेट कोड
------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
इसका पूरा नाम फाइल एलेाकेशन टेबल है यह डाॅस के साथ ही से चला आ रहा है और अब इसका प्रयोग पेनड्ाइव या माइक्रो एसडी कार्ड में होता है। इसको बिल गेटृस और मैकडोनाल्ड ने सन् 1977 में बनाया था। जब तक हार्ड डिस्क की साइज 4 जीबी की थी जब तक FAT16 चला लेकिन इससे बडी हार्डडिस्क होने पर FAT16 का नया वर्जन FAT32 1996 में आया। यह लगभग सभी प्रकार के सिस्टम में सर्पोट किया जाता है। यह फाइल सिस्टम 4 जीबी तक के फाइल को क्रीयेट करने की सुविधा देता है।

exFAT  file System

इसका पूरा नाम extended file allocation table  है। यह फाइल सिस्टम 2006 में लांच किया गया जो विन्डोज एक्सपी और विन्डोज विस्टा के अपडेट के लिये था। यह विशेष रुप से फ्लैश डाइ्व के लिये बनाया गया था जो कि FAT32  फाइल सिस्टम की तरह हल्का लेकिन NTFS  फाइल सिस्टम से के अतिरिक्त सुविधाओ के बिना और FAT  फाइल सिस्टम से बेहतर था। 
exFAT फाइल सिस्टम को मैक आपरेटिंग के द्वारा रीड और राइट किया जा सकता है, और लाइनक्स आपरेटिंग के द्वारा भी रीड राइट और इन्स्टालरेशन किया जा सकता है।
------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
इन्हें भी पढ़े 
जानिए गोर्रिला ग्लास की सच्चाई
इन्टरनेट स्पीड की सच्चाई
फेसबुक auto liker का काला सच
विंडोज का registry editor एक मैजिक विंडोज
विंडोज run कमांड software को start करने का आसान  रास्ता
bold italic अब whatsapp में भी
एंड्राइड मोबाइल के 50 सीक्रेट कोड
------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

Difference between NTFS and FAT32  

NTFS फाइल सिस्टम में करप्ट हुये फाइल या पावर फेल्योर हुये फाइल को रिपेयर करने की सुविधा होती है। जबकि  FAT   में यह सुविधा नही के बराबर होती है।
NTFS फाइल सिस्टम में बउी हार्डडिस्क की साइज को सपोर्ट करने की क्षमजा होती है। जबकि  FAT32  में यह सुविधा नही होती है। यह बडी हार्डडिस्क को सपोर्ट नही कर सकता है।
NTFS फाइल सिस्टम में 2 टीबी तक की फाइल बनाई जा सकती है, लेकिन FAT  में 4 जीबी से बडी फाइल नही बनाया जा सकता है। और यह 32 जीबी से बडी हार्डडिस्क पार्टीशन नही कर सकता है।
NTFS फाइल सिस्टम में   FAT  से ज्यादा सेक्योरिटी फिचर होत है। क्योकि इसमें  परमिशन एण्ड एनक्रीप्शन फीचर हाते है जो फाइल और फोल्डर को ज्यादा सेक्योर रखता है।

FILE SYSTEM CONVERSION FAT32 to NTFS

FAT32   को NTFS फाइल सिस्टम में कनवर्ट करने के लिये निम्न स्टेप को फालो करेगे।
Step - 1 सबसे पहले My Computer में यह देखेंगे की हमारा कौन ड्राइव FAT पार्टीशन पर है 
Step - 2  Run Command के द्वारा या all programme से Command Prompt को ओपन करेंगे 
Step -3 अब Command Prompt पर d: लिख कर enter key प्रेस करेंगे 
Step - 4- Disk Error को चेक करने के लिए chkdisk/f कमांड को रन  करेंगे
Step -5 अव Disk को FAT32 से NTFS में बदलने के लिए CONVERT d:/fs:NTFS टाइप  करेंगे अब  डिस्क का कन्वर्ट होना शुरू हो जायेगा कुछ देर पश्चात् आपका ड्राइव FAT32 से NTFS में CONVERT हो जायेगा
------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
इन्हें भी पढ़े 
जानिए गोर्रिला ग्लास की सच्चाई
इन्टरनेट स्पीड की सच्चाई
फेसबुक auto liker का काला सच
विंडोज का registry editor एक मैजिक विंडोज
विंडोज run कमांड software को start करने का आसान  रास्ता
bold italic अब whatsapp में भी
एंड्राइड मोबाइल के 50 सीक्रेट कोड
------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

Note :- 

तो दोस्तो मेरा यह पोस्ट कैसा लगा हमें जरुर बताईयेगा। आशा है जरुर पसंद आया होगा | आप हमारे ब्लाग को फ्री में सब्सक्राइब करें, और पाये विभिन्न लेटेस्ट अपडेट। पोस्ट अच्छा लगे तो अपने दोस्तों के साथ फेसबुक, ट्विटर पर शेयर करे, आज के लिए  सिर्फ इतना ही ।
धन्यवाद

If You Enjoyed This, Take 5 Seconds To Share It

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें