रविवार, 7 मई 2017

big data kya hota hai? hindi me

Leave a Comment

big-data-kya-hota-hai-hindi-me
दोस्तों आप computer और इन्टरनेट के बारे में सुना है।  लेकिन क्या Big data के बारे में सुना  है? आखिर यह big data क्या है ? अब computer और  internet  की दुनिया में यह क्या बला है ? तो मित्रो आज मैं इसी  विषय में बताने वाला हूँ की क्या है big data ?  आपका ज्यादा समय ना लेते हुए । चलिए शुरू करते है ।SEO kya hota hai

Big Data क्या है ?

डाटा जो हम store करते है । वो पहले किलोबाइट में होता था। लेकिन अब यही डाटा किलोबाइट से बढ़कर मेगाबाइट, इससे बढ़कर गीगाबाइट, इससे बढ़कर terabyte होता जा रहा है । डाटा जो हम store करते वह चाहे वह अपने कम्पुटर में store करे या मोबाइल में 3g यूज़ करे या 4g उसे करे l यह एक अलग चीज़ है । लेकिन यह big data  के सामने कुछ भी नहीं है । और यह  बिलकुल अलग चीज़ है । पुराने कम्पुटर में 4.5 gb की harddrive लगी हुयी थी । पूरी दुनिया में हर रोज लगभग 3 से 4 मिलियन डाटा यानि लगभग 30 से 40 लाख terabyte डाटा हम सभी मिलकर generate  करते है ।
यह जो डाटा है वही है big data। यहाँ पर जो अलग अलग फोंस में जो डाटा है। अलग अलग जगह पर जो डाटा है । वो कलेक्ट किया जाता है । या generate किया जाता है ।  बाद में उसको  प्रोसेस भी किया जाता है । ताकी आप का फायदा हो हमारा फायदा हो, और कम्पनियों का फायदा हो । जिससे हम सभी को बेहरत सर्विसेज मिल सके ।
जो सारी डाटा है उनको एनालाइज किया ही नहीं जा सकता । big data का जो सिंपल फॉर्म है वो यही है की इतना ज्यादा डाटा , इतना ढेर सारा डाटा की उसको नार्मल  तरीके से एनालाइज किया ही न जा सके ।  उसके लिए चाहिए स्पेशल hardware, स्पेशल software। उसके  बाद में हम उसमे काम का कुछ मीनिंग निकाल सके । 

Big data,मोबाइल फ़ोन, और पूरी दुनिया 

यहाँ पर बहुत से चीजे है जैसे की Facebook पर या whatsapp पर क्या शेयर कर रहे है? क्या पोस्ट कर रहे है ? क्या अपने twit किया कौन सा फोटो शेयर किया? कौन सा पोस्ट लिखे किया? कौन सा फोटो लाइक किया ?  आप फ़ोन पर क्या बात कर रहे है? आप कहा पर जा रहे है? कहा पर नहीं जा रहे है।p किस store से क्या सामान ख़रीदा? अपने ऑनलाइन  क्या ब्राउज किया ? क्या परचेस किया ? आप फ़ोन पर क्या बात करते है? कितना बात करते है ? इस तरह की बहुत सारी चीजे जो आप के मोबाइल फ़ोन से निकल जाती है। 
इसके अलावा दुनिया भर के वर्क स्टेशन से जगह जगह से क्या क्या चीजे निकल कर आती है ? जो दुनिया भर में फ्लाइट उड़ रही है उनका डाटा क्या है ? जो दुनिया भर में ट्रैफिक है उनका डाटा क्या है ? हॉस्पिटल में जो पेशेंट है उनके रिकॉर्ड क्या है? कौन क्या क्या रिकवर कर रहा है?  किस किस टॉपिक पर रिसर्च हो रहे है? यहाँ पर इतना सहारा डाटा है जो हर रोज generate होता hai। 

Big data के process से फायदा 

यदि सही ढंग से big data को process कर लिया जाये तो हम बहुत बड़ा कमाल कर सकते है। लेकिन अभी भी हम इसका कुछ परसेंट ही process कर पा  रहे है।  जैसे मान लीजिये किसी कंपनी को किसी दुसरे देश में अपना बिज़नस स्टार्ट करना है। तो यदि वह कंपनी अच्छे से analyse  कर ले की क्या कहते है उस देश के ब्यक्ति उस कंपनी के बारे में, उस कंपनी के बारे में क्या क्या पोस्ट कर रहे है? क्या क्या फीडबैक दे रहे है ?  तो वह कंपनी पहले ही अंदाजा लगा लेगी की उस देश में कंपनी स्टार्ट करना फायदेमंद होगी की नहीं । 

Big data and privacy

अब आप सोचते होंगे की यार यहाँ पर सब कुछ ही बिग डाटा में रहता है। तो हमारे प्राइवेसी का क्या होगा। तो दोस्तोंइ आपको बता दू की यदि आप इन्टरनेट पर है तो आपकी प्राइवेसी नहीं है। लेकिन घबराई मत जैसा आप सोच रहे है वैसा कुछ नहीं है और न ही होता है। लेकिन इसका  नाम big data  इसीलिए है क्योकि यहाँ पर किसी के individual डाटा का कोई रोल रहता नहीं है। 
जैसे आप ने यदि यह किसी एक ब्यक्ति को बताया की आप सुबह क्या खाया, तो यह बात मायने रखती है। लेकिन यदि मैं big data से यह इनफार्मेशन निकालू इस देश के कितने लोगो ने दाल रोटी खाया तो यहाँ पर किसी एक ब्यक्ति बात नहीं होगी और न ही उसकी डाटा की। यहाँ पर बात होगी उस देश के कितने लोगो ने दाल रोटी खाई।  इससे किसी ब्यक्ति के ऊपर कोई फर्क नहीं पड़ेगा। मैं टी सिर्फ यह जानना चाहा की देश के कितने लोगो ने दाल रोटी खाई। 
कोई भी कम्पनी इसको इसी लिए process करती है ताकि वे हमें बेटर सर्विस दे सके। यदि किसी कंपनी को इसे process करना है तो उसको तीन  बातो का ख्याल रखना होता है।  पहला big data का volume अर्थात कितना डाटा generate हो रहा है।  और दूसरा वेलोसिटी अर्थात किस रेट से डाटा generate हो रहा है। और तीसरा है वेराइटी अर्थात किस किस वेराइटी का डाटा generate  हो रहा है।   और फिर  बात आती है उसको analyse करने की जो स्पेशल हार्डवेयर और  special software के द्वारा ही analyse किया जाता है।
SEO kya hota hai

Conclusion

तो दोस्तों यह big data में सभी तरह के पूरी दुनिया के डाटा उपलब्ध होते है और  कंपनिया किसी विशेष कार्य के लिए analyse  या process करती है ताकि वे हमें बेहतर सर्विस दे सके।  यह रहा big data क्या होता है? उसको कैसे analyse किया जा सकता है? इससे हमें क्या फायदा है? इन सब प्रश्नों का आंसर आप सभी को मिल गया होगा। वैसे इससे किसी के भी प्राइवेसी को कोई खतरा नहीं है। 
यदि आपको यह पोस्ट पसंद आया तो इससे जरुर फेसबुक, google प्लस पर शेयर करे।  सब्सक्राइब करे। और डेली हमारे ब्लॉग पर आते रहे और इसी तरह के जानकारी से युक्त पोस्ट पड़ते रहे। 
If You Enjoyed This, Take 5 Seconds To Share It

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें