सोमवार, 31 जुलाई 2017

MX Player Error AC3 Audio Format Not Supported ko Fix/Solve Kaise Kare?

जुलाई 31, 2017 1
AC3-Audio-Format-Not-Supported-ko-Fix/Solve-Kaise-Kare
दोस्तों आप में से बहुत से लोग एंड्राइड मोबाइल यूज़ करते होंगे, और इसमे मूवी भी देखते होंगे. आप सब मूवी देखने के लिए क्या Mx Player का इस्तेमाल करते है? यदि आप Mx Player का इस्तेमाल करते होंगे तो कभी कभी जब आप ड्यूल ऑडियो वाली मूवी ओपन करते होंगे तो Mx Player एक एरर AC3 Audio Format Not Supported देता होगा. और उस मूवी में साउंड नहीं आता होगा. आज हम आप लोगो को बताएँगे की आप MX Player Error (AC3 Audio Format Not Supported) ko Fix/Solve Kaise Kare?

रविवार, 30 जुलाई 2017

TrueCaller kaam kaise karta hai? Crowd Sourcing

जुलाई 30, 2017 2
TrueCaller-Crowd-Sourcing
दोस्तों आप लोग TrueCaller का नाम तो जरुर सुने होंगे और आप में से कुछ लोग इसका किये होंगे या कर रहे होंगे. इस एप्प की सबसे बड़ी खासियत यह है की इसके रहते कोइ आपको अनजान नंबर से कॉल नहीं कर पायेगा. जैसे ही कोई काल आपके मोबाइल पर आएगी वह नंबर आपके मोबाइल में सेव हो या न हो उस नंबर को उसे करने वाले का नाम आपके मोबाइल में आ जायेगा. हम आज आपको बताएँगे की TrueCaller kaam kaise karta hai? आखिर कैसे यह एक ऐसे इंसान का नाम जो हमारे फ़ोन के contact में नहीं उसके नाम  भी पहले ही बता देता है.

शनिवार, 29 जुलाई 2017

Cloud Computing kaam kaise karta hai, iska istemal kaise kare?

जुलाई 29, 2017 2
Cloud-Computing
दोस्तों आप लोग cloud computing का नाम तो जरुर सुना होगा लेकिन क्या आप जानते है की Cloud computing kya hota hai? Cloud Computing kaam kaise karta hai? आज मैं इसी के बारे में आप लोगो को बताऊंगा की कैसे यह काम करता है? Cloud Computing को हम कैसे यूज़ कर सकते है? कही ऐसा तो नहीं है की कही बदलो में कुछ लगा है या यह technology कहा से आई है.

शुक्रवार, 28 जुलाई 2017

OCR Handwriting Recognition kya hai?

जुलाई 28, 2017 1
OCR-Handwriting-Recognition
दोस्तों क्या आप जानते है की OCR (optical character recognition) Handwriting Recognition kya hota hai? कैसे हमारा कंप्यूटर हाथ से लिखे हुए अक्षरों को पहचान लेता है, और उन्हें एडिट करने योग्य फोर्मेट में बदल देता है जिससे हमें वह डॉक्यूमेंट टाइप नहीं करना पड़ता है. आज हम इसी के बारे में आप लोगो को बतायेगे की यह किस प्रकार से अक्षरों की पहचान करता है.
जब हम लोग किसी भी डॉक्यूमेंट को देखते है तो उसे बहुत ही आसानी से एक एक अक्षर को पद लेते है और यह जान जाते है की इसमे क्या लिखा है. लेकिन क्या आप ने कभी सोचा है की एक कंप्यूटर कैसे हाथ से लिखे हुए अक्षरों को पढ़ कर उन्हें एडिट करने वाले अक्षरों में बदल देता है.

गुरुवार, 27 जुलाई 2017

Augmented Reality aur Microsoft Hololens kya hai?

जुलाई 27, 2017 0
Augmented-Reality-aur-Microsoft-Hololens
दोस्तों क्या आप जानते है की Augmented Reality aur Microsoft Hololens kya hai? यदि जानते है तो ठीक है, और यदि नहीं जानते है तो आज हम आपको बताएँगे की Augmented Reality kya hai? aur isaka kya fayda hai? आप सभी यदि Augmented Reality को नहीं सुने है या नहीं जानते है तो कोई बात नहीं लेकिन virtual reality को तो जानते ही होंगे और इसके विषय में जरुर सुना होगा. और आप में से बहुत से लोग VR set का यूज़ भी करते होंगे.

बुधवार, 26 जुलाई 2017

Linux kya hai? Linux aur Windows Operating System me Antar

जुलाई 26, 2017 2
 Linux-aur-Windows-Operating-System
दोस्तों क्या आप जानते है की linux kya hai? क्या आप जानते है की linux aur windows operating system me kya difference hai? आज हम आप लोगो को इसी के बारे में बताएँगे की इनमे से कौन सा operating system बेहतर है और क्यों?
इस समय windows operating system काफी मशहूर है. और अधिकतर लोग अपने pc में इसी का इस्तेमाल करते है. जबकि linux operating भी कम फेमस नहीं है. लेकिन इसे कुछ लोग पसंद नहीं करते है. क्योकि इसके control बटन्स और आइकॉन windows से थोड़े भिन्न है.  कंप्यूटर में जो कुछ भी किया जाता है वह दो प्रकार के सॉफ्टवेयर के द्वारा किया जाता है.

मंगलवार, 25 जुलाई 2017

Kernel kya hai poori jankari Hindi me?

जुलाई 25, 2017 1
Kernel-kya-hai
दोस्तों क्या आप जानते है की Kernel kya hota hai? और इस kernel का ऑपरेटिंग सिस्टम में क्या महत्त्व है और इसे क्यों इस्तेमाल किया जाता है? और क्या यह सभी ऑपरेटिंग सिस्टम में अनिवार्य रूप से होता है?
तो आज हम आपको देंगे इसी kernel की पूरी जानकारी हिंदी में.  कोई भी कंप्यूटिंग डिवाइस जैसे एंड्राइड फ़ोन, iphone, विंडोज फ़ोन, सिम्बियन फ़ोन, laptop, डेस्कटॉप या कोई भी ऐसा डिवाइस जिसमे हार्डवेयर के ऊपर os रन करता हो उसमे एक kernel जरुर होता है.

सोमवार, 24 जुलाई 2017

MasterCard kya hai? RuPay card vs MasterCard

जुलाई 24, 2017 0
MasterCard
दोस्तों क्या आप जानते है की MasterCard kya hai? RuPay card aur MasterCard me kya antar hai? आज के digital पेमेंट के दौर में हम सभी चाहते है की जो भी  पेमेंट करे वह online हो या कैशलेस हो. ऐसे में हम अक्सर अपने debit card या credit card का इस्तेमाल करते है.  लेकिन क्या आपने कभी अपने debit card या credit card को ध्यान से देखा है. यह हम किसी भी बैंक से लिए हो उस MasterCard या Visa card या RuPay card लिखा रहता है. आज हम आप लोगो को बताएँगे की आखिर यह MasterCard kya hota hai?

Plastic Money Kya hota hai ?

जब हम हार्ड कैश की जगह पर किसी भी तरह के transaction में atm card, debit card, credit card का इस्तेमाल करते है तो यह card ही plastic money के नाम से जाना जाता है और इससे होने वाला  transaction कैशलेस कहलाता है.
अब जो atm card, debit card, credit card होते है वो MasterCard हो सकते है, Visa card हो सकते है, या RuPay card भी हो सकते है.

MasterCard kya hota hai?


भारत में जो भी बैंक debit card या atm card देते है वो अक्सर MasterCard  या Visa card या RuPay card ही होता है.  आखिर यह तीनो क्या है? दरअसल यह तीनो एक पेमेंट गेटवे है. आप जब इन्हें इस्तेमाल करते है चाहे वह debit card हो या credit कार्ड हो, आप इन्हें atm में इस्तेमाल करे या किसी को पेमेंट करने के लिए POS मशीन में इस्तेमाल करें. तो यह जरुरी नहीं की जिसको आप पेमेंट कर रहे हो वह भी उसी same बैंक में अकाउंट होल्डर हो वह किसी भी बैंक का अकाउंट होल्डर हो सकता है.
इस स्थिति में हमें एक middleman की जरुरत पड़ती है जो इन transaction को आसानी से हैंडल कर सकें, और transaction को आगे फॉरवर्ड कर सके.  अब यह गेटवे आपके बैंक और आप जिस बैंक को पैसे भेज रहे है उस बैंक के बीच एक चैनल की तरह से काम करती है. और अपना commission ले लेती है.
mastercard एक विदेशी payment gateway है जो विश्व के अधिकांश देशो के बैंक को अपने कार्ड के द्वारा payment gateway की सुविधा मुहैया करता है.

RuPay Card kya hota hai?

RuPay card एक भारतीय payment gateway है या यह एक domestic payment gateway है, और इसका पूरा नाम Rupee payment.  इसे NPCI (National Payment Corporation of India) ने सिर्फ भारत में इस्तेमाल करने के लिए बनाया है और यह  same वही काम करती है. जो MasterCard और Visa card करतीं है. चुकी MasterCard और Visa card विदेशी कंपनी या अमेरिकन कम्पनी है. और इनका कमीशन ज्यादा है. लेकिन RuPay card भारतीय कंपनी होने के कारण इसका कमीशन भी कम है.

MasterCard aur Rupay card me Difference (अंतर)

  • MasterCard एक अमेरिकन कंपनी है और जब हम इसके card का इस्तेमाल करते है तो डाटा प्रोसेसिंग और वेरिफिकेशन के लिये उस कंपनी के सर्वर में जाती है. जिससे प्रोसेसिंग स्लो हो जाती है. जबकि RuPay card का इस्तेमाल करने पर डाटा प्रोसेसिंग और  वेरिफिकेशन के लिए अपने ही देश में रहती है. जिससे इसकी प्रोसेसिंग फ़ास्ट होती है.
  • RuPay card के द्वारा आप सभी तरह के online payment कर सकते है. लगभग 10000 वेबसाइट है जो RuPay card से payment accept कर रही है.  चुकी यह संख्या MasterCard की तुलना में कम है लेकिन धीरे धीरे बढ़ रहा है. क्योकि जब प्रधानमन्त्री जी के द्वारा जनधन योजना के तहत जो भी अकाउंट ओपन हुए उन सभी में RuPay card को ही दिया गया है.
  • जब बैंक MasterCard को प्रोवाइड करते है तो उस बैंक को एक्स्ट्रा चार्ज देना पड़ता है. जबकि जब बैंक RuPay card को देते है तो उन्हें किसी भी प्रकार के एक्स्ट्रा चार्ज को नहीं देना होता है.
  • MasterCard का इस्तेमाल आप विश्व क्व किसी भी देश में कर सकते है. जबकि RuPay card का linkup discover network के साथ होने के कारण आप इसका इस्तेमाल सिर्फ उन्ही देश में कर सकते है जहा वे कार्ड एक्सेप्ट किये जाते है. मतलब  यह की RuPay card का इस्तेमाल आप विश्व के सभी देशो में नहीं कर सकते है. इसे कुछ ही देशो में इस्तेमाल कर सकते है.
  • MasterCard  debit card और credit card दोनों फोर्मेट में मिल जाता है. जबकि RuPay card में अभी credit card नहीं आया है. यह सिर्फ अभी debit card में ही उपलब्ध है.
  • within India यदि आप MasterCard  से कोई भी बिल payment करते है जैसे विजली का बिल, पानी का बिल या फिर पेट्रोल भरवाते है तो आप को कोई भी छुट नहीं मिलता है. जबकि इन्ही कामो को यदि आप RuPay card से करे तो आपको कुछ छुट भी मिल जायेगा.
  • backlinks kya hota hai aur SEO ke liye kyo jaruri hai
  • nofollow aur dofollow backlinks kya hota hai

Conclusion

वैसे देखा जाये तो MasterCard  की बजाय RuPay card का इस्तेमाल हम लोगो के लिए फायदेमंद हो सकता है. क्योकि इसे सरकार भी बढ़ावा दे रही है. और RuPay card भारत में हर जगह एक्सेप्ट भी हो रहा है.
मुझे उम्मीद है की आप लोग यह अच्छी तरह से समझ गए होंगे की Plastic money kya hota hai? और MasterCard kya hai? RuPay card aur MasterCard me kya antar hai? यदि कोई सुझाव या सिकायत हो तो आप इसे कमेंट बॉक्स के जरिये जरुर बताये हमें ख़ुशी होगी. अगर यह आर्टिकल आप लोगो को पसंद आया हो तो इसे facebook, twitter पर शेयर करें.

रविवार, 23 जुलाई 2017

Surface web, Deep web, Dark web me Kya Difference Hai?

जुलाई 23, 2017 0
Surface-web-Deep-web-Dark-web
दोस्तों आप सभी internet का इस्तेमाल तो हर रोज करते होंगे और search इंजन की मदद से न जाने कितनी website को search करते होंगे, और उन website को सर्फ करते होंगे. लेकिन आप ने कभी सोचा है की क्या सभी website search इंजन में इंडेक्स होती है. और क्या सभी website या सभी जानकारी को internet पर search इंजन के माध्यम से खोजा जा सकता है. आज हम आप लोगो बताएँगे की surface web, deep web, dark web me kya difference hai? और यह deep web kya hota hai?

The Black world of Internet in Hindi

What is Surface web Vs Deep web Vs Dark web Hindi

चुकी internet पर जितने भी website या blog मौजूद है, वो सभी world wide web के अंतर्गत ही आते है. यानि यह सभी www के ही हिस्सा है. और इन सभी को हम search इंजन के मदद से search भी कर सकते है. लेकिन कुछ ऐसे भी कंटेंट इन्टनेट पर मौजूद है जिन्हें हम search नहीं कर सकते है.  इसके आधार पर इन्हें 3 पार्ट में बांटा गया है.

  • Surface web
  • Deep web/Hidden web
  • Dark web



Surface web kya hota hai? (सरफेस वेब क्या होता है ?)

जिन कंटेंट या website को या internet की ऐसी जानकारी जो search इंजन के माध्यम से search किया जा सके surface web के अंतर्गत आती है. और यह पूरे internet का केवल 5 प्रतिशत ही है. लेकिन surface web ही पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है.
अर्थात हम search इंजन के माध्यम से जो कंटेंट या जानकारी internet के माध्यम से प्राप्त करते है वो internet पर मौजूद कंटेंट या जानकारी का केवल 5 प्रतिशत ही होता है. बाकि का 95 प्रतिशत ऐसा है जिन्हें हम नार्मल ब्राउज़र या search इंजन के मदद से भी नहीं प्राप्त कर सकते है.

Deep web/ Hidden Web kya hota hai? (डीप वेब / हिडन वेब क्या होता है ?)

deep web/ hidden web www का ही वह हिस्सा है जो किसी भी search इंजन में इंडेक्स नहीं हुआ रहता है.  या कह सकते है की इसमे वो website आती है जो NO Index का इस्तेमाल करके search इंजन में आने से बच जाती है.
जीतनी भी cloud storage की website होती है, online banking info, email ये सभी deep web के अंतर्गत आती है. इन्हें ओपन करने के लिए स्पेशल url के साथ स्पेशल परमिशन की जरुरत होती है. दुनिया में सबसे ज्यादा deep web की website रूस के पास है.
Surface-web-Deep-web-Dark-web-2

deep web ka use kyo hota hai? 

internet पर बहुत से ऐसे कंटेंट है जिन्हें सर्च इंजन में इंडेक्स करने की कोई जरुररत नहीं होती है. और यदि इन्हें search इंजन में इंडेक्स कर दिया जाये तो कई लोगो को काफी दिक्कत हो जाएगी. और लोगो की ऑनलाइन security hacker से compromise हो जाएगी.
जैसे मान लीजिये की यदि आप का ईमेल id search इंजन में इंडेक्स हो जाये तो आपके ईमेल id पर इतने spamm email आने लगेंगे की आप परेशां हो जायेंगे या यदि आपके ईमेल के कंटेंट search इंजन में इंडेक्स हो जाये तो सोचिये की क्या हो सकता है.
या यदि आपके पास internet बैंकिंग account है और उसका डिटेल search इंजन में इंडेक्स हो जाये तो आपको कितना प्रॉब्लम हो सकती है आप खुद ही अंदाजा लगा सकते है.
government employees, army, police, banks secrets, intelligence bureau, central bureau of investigation की website भी deep web में ही होती है.

Dark web kya hota hai?

internet पर जितने भी illegal काम किये जाते है, वो dark web के अंतर्गत आते है. इसकी कोई भी जानकारी पब्लिक के लिए नहीं रखी जाती है. और सभी search इंजन को भी इसकी जानकारी रखने की इजाजत नहीं होती है.
dark web पर कोई भी कानून नहीं होता है, इसमे हैकिंग, मर्डर, गैर क़ानूनी ढंग से हथियारों की खरीद, जुआ, ड्रग की खरीद फरोक्त आदि शामिल होते है. इन सब चीजों को हम सामान्य ब्राउज़र से नहीं देख सकते है.
इसके लिए एक अलग ब्राउज़र tor browser होता है. और इसके साथ एक proxy का भी इस्तेमाल करना पड़ता है. ताकि वह हमारे ip को और हमारे पहिचान को गवर्मेंट से या internet पर नज़र रखे हुए सरकारी संस्था से छुपाया जा सके.
लेकिन मैं यह नहीं चाहूँगा की आप लोग dark web में जाये भले ही आप एक थोडा सा एक्सपीरियंस के लिए ही जाना चाहते हो. क्योकि यह आपके लिए काफी खतरनाक हो सकता है.

Conclusion

internet जीतनी अच्छी है यह उससे कही ज्यादा बुरी भी है. हमें इसके सिर्फ अच्छे पहलू को देखना चाहिए और उसी से जितना हो सके लाभ उठा लेना चाहिए. और मुझे उम्मीद हैऊ की आज का मेरा यह पोस्ट surface web, deep web, dark web me kya difference hai? आप लोगो को जरुर पसंद आया होगा. और आप या अच्छी तरह से surface web, deep web, dark web को समझ गए होगे. यदि यह आर्टिकल आपको पसंद आया तो आप इसे facebook, twitter पर अपने मित्रो के साथ जरुर शेयर करें. 

शनिवार, 22 जुलाई 2017

Myspace se High Quality Dofollow Backlinks Kaise Banaye

जुलाई 22, 2017 3
Myspace-se-High-Quality-Dofollow-Backlinks
दोस्तों आप लोग myspace का नाम तो सुना ही होगा यह एक सोशल मीडिया website है. और यह बहुत से देश में भी इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन क्या आप जानते है की  इस वेबसाइट के द्वारा कैसे high quality dofollow backlinks बना सकते है. आज हम आप लोगो को Myspace se High Quality Dofollow Backlinks Kaise Banaye बताएँगे.
आप लोग backlinks बनाना जानते होंगे लेकिन आप अपने ब्लॉग या website के लिए सिर्फ backlinks बनाने पर  ध्यान मत केन्द्रित कीजिये बल्कि आप high quality backlinks बनाने पर अपना ध्यान केन्द्रित कीजिये.

Myspace se High Quality Dofollow Backlinks kyo Banaye?

यदि आप एक ब्लॉगर है तो यह जरुर जानते होंगे की की website के लिए high quality backlinks कितना जरुरी है. क्योकि यदि आप यह चाहते है की आप का ब्लॉग SERP में अच्छी रैंक पाए और search इंजन ले ज्यादा ट्रैफिक मिले तो आपको high quality backlinks की जरुरत पड़ेगी. और  इसके लिए आप लोगो को अपने ब्लॉग के लिए high PR dofollow backlinks बनाना पड़ेगा.
myspace website की domain authority 98 और पेज authority 96 है. यदि हम इसके trust flow और citation flow की बात करे तो यह 72 और 78 है. जहा तक बात myspace के backlinks की है तो इसके External Backlinks 2,216,734, Referring Domains 28169, Referring IPs 21222 और Referring Subnets 14036 है जो backlinks quality के हिसाब से बहुत ही बेहतरीन  है.
यदि आप का ब्लॉग technical है और आप यह सोच रहे है की यह आपके blog के niche से सम्बंधित नहीं है. तो आप गलत है. यह एक सोशल website है. और इस पर आपके blog के niche से सम्बन्ध होना जरुरी नहीं है.


Myspace se High Quality Dofollow Backlinks Kaise Banaye  full guide?

इस website पर आप सिर्फ अपना एक प्रोफाइल बनाकर बहुत ही high quality PR backlinks पा सकते है. और यदि अपने ब्लॉग के आर्टिकल को पोस्ट भी करते है तो बहुत ही अच्छी बात है.  इस पर भी

STEP 1

  1. सबसे पहले आप Myspace website को ओपन करे.
  2. SignUp बटन पर क्लिक करें.
    Myspace-se-High-Quality-Dofollow-Backlinks-1

STEP 2

  1. अब यहाँ आप आपको तीन आप्शन  दिखाई देंगे
  2. यदि आप चाहे तो facebook account के द्वारा भी लॉग इन कर सकते है.
  3. twitter के द्वारा भी लॉग इन कर सकते है.
  4. यदि आप चाहते है की email Id से नया account बनाकर लॉग इन करे तो आप इस तीसरे आप्शन को चुने.
    Myspace-se-High-Quality-Dofollow-Backlinks-2

STEP 3

Myspace-se-High-Quality-Dofollow-Backlinks-3
  1. FULL NAME  में आप अपना पूरा नाम लिखे
  2. Select gender में आप Male या female सेलेक्ट करे.
  3. USERNAME में आप अपना कोई ऐसा यूजरनाम डालिए जो यूनिक हो.
  4. PASSWORD में अपना एक password डालिए.
  5. EMAIL में अपनी ईमेल ID डाल दीजिये.
  6. DATE OF BIRTH में अपनी जन्मतिथि भर दीजिये.
  7. I’m not a robot पर क्लिक करके verify कीजिये.
  8. Term and condition पर क्लिक करके यूज़ एक्सेप्ट कीजिये.
  9. Create account पर क्लिक कर दीजिये.
अब आपका account बन कर तैयार हो जायेगा. और यह आपका प्रोफाइल पेज ओपन कर देगा.

STEP 4

  1. जब आपका account बनकर तैयार हो जायेगा तब आपके सामने connection के बारे में पूछा जायेगा की आप किस तरह के लोगो से connection चाहते है.
    Myspace-se-High-Quality-Dofollow-Backlinks-4
  2. अब आप यहाँ पर writer को सेलेक्ट कीजिये.

STEP 5

  1. अब आप अपने myspace के डैशबोर्ड पर आ जायेंगे. अब आप सबसे पहले एक प्रोफाइल image को अपलोड करें. उसके बाद एक background image जो 800 x 600 का होना चाहिए उसे अपलोड  करें.
    Myspace-se-High-Quality-Dofollow-Backlinks-5

STEP 6

अब दाहिने तरफ myspace के प्रोफाइल में -
  1. about yourself में अपने बारे के कुछ लिखिए.
  2. add your current location में अपने कंट्री को सेलेक्ट कीजिये.
  3. add your website में अपने blog या website का url टाइप करे दीजिये.
  4. add a bio में अपने बारे में पूरी डिटेल में जानकारी दीजिये.
    Myspace-se-High-Quality-Dofollow-Backlinks-6
अब आपका myspace सोशल website से high quality dofollow backlinks बन कर तैयार हो गया है. लेकिन इसका प्रभाव दिखने में लगभग महिना दिन लग जायेगा. इसलिए आप धैर्य बनाये रखे और अपना काम करते रहे.

Final word-

अंत में मैं आप लोगो से यही कहना चाहूँगा की यदि आप ने अपने myspace के प्रोफाइल में अपने ब्लॉग का url दिया है तो आपको प्रोफाइल image को जरुर अपलोड कर दे और अपने ईमेल id में आये हुए वेरिफिकेशन email  को ओपन कर के अपना ईमेल जरुर verify कर दे. नहीं तो आपका account delete भी किया जा सकता है.
मुझे उम्मीद है की आज का यह आर्टिकल Myspace se High Quality Dofollow Backlinks Kaise Banaye आप लोगो को जरुर पसंद आया होगा. आप इसे अपने मित्रो के साथ सोशल मीडिया पर जरुर शेयर करे.

शुक्रवार, 21 जुलाई 2017

face recognition payment system aur selfie authentication kya hai?

जुलाई 21, 2017 1
Selfie-Authentication
दोस्तों आप लोग तो selfie लेते ही होंगे और उसे शेयर भी करते होंगे, क्या आपने कभी यह सोचा है की यह selfie ही आपके online अकाउंट का password बन जाये या selfie के द्वारा ही आप किसी को भी online पेमेंट करे तो कैसा होगा. और आपके सभी प्रकार के अकाउंट का authentication आपके सिर्फ एक selfie से हो जाये तो कैसा रहेगा.
आज हम आपको इसी selfie password या selfie authentication के बारे में बताएँगे औए यह भी बताएँगे की कैसे कम्पनीज selfie payment के बारे में भी सोच रही है.  The Rise of the Selfie Authentication as a New Security Factor (Hindi) 

गुरुवार, 20 जुलाई 2017

kya Rooting and Jailbreaking illegal hai?

जुलाई 20, 2017 1
Rooting-and-Jailbreaking
दोस्तों क्या आप सब जानते है की kya Rooting and Jailbreaking illegal hai? आप सभी तो rooting के बारे में तो सुना ही होगा. और एंड्राइड को अक्सर उसके यूजर चाहते है की इसको root कर दे. और iPHONE यूजर यह चाहते है की वह अपने फ़ोन को jailbreaking कर दे. लेकिन क्या आप जानते है की यह लीगल  है या illegal है. Rooting aur Jailbreaking अपने फ़ोन में करना चाहिए या नहीं?

मंगलवार, 18 जुलाई 2017

Water Cooling Computer kya hai? or Liquid cooling in Gaming Pc (Hindi)

जुलाई 18, 2017 0
Water-Cooling-Computer
दोस्तों क्या आप सभी जानते है की कंप्यूटर और मोबाइल्स को ठंडा रखने के लिए अब हीट सिंक और फैन की जगह water cooling system या liquid cooling system  का भी इस्तेमाल कर सकते है. आज  हम आप लोगो को बताएँगे की Water Cooling Computer kya hai? और आप अपने computer me Water Cooling System kaise install kare?
हो सकता है की यह आप लोगो को सुनने में थोडा अजीब लगे क्योकि किसी कंप्यूटर या मोबाइल में water cooling सिस्टम का यूज़ कैसे किया जा सकता है.

रविवार, 16 जुलाई 2017

Breathalyzer Kya Hai aur Yah Kaise Kaam Karta Hai?

जुलाई 16, 2017 3
breathalyzer
दोस्तों क्या आप जानते है की breathalyzer kya hota hai aur yah kaise kaam karta hai? या blood alcohol ki janch kaise ki jati hai? कोई अल्कोहल का सेवन करके गाड़ी ड्राइव करता है और उसे पुलिस पकड़ लेती है तो वह आखिर कैसे जान जाती है की गाड़ी ड्राइव करने वाले ब्यक्ति ने कितनी मात्र में अल्कोकोल का सेवन किया है.
ड्रिंक एंड ड्राइव कभी नहीं करना चाहिए. यह खुद अपने लिए ही घातक है. ड्रिंक करने के बाद गाड़ी ड्राइव करने पर हो सकता है की आप उसे ढंग से ड्राइव न कर पाए और कही टक्कर लग जाये.

शनिवार, 15 जुलाई 2017

cyber war kya hai? kya hum The digital war ke liye taiyar hai

जुलाई 15, 2017 0
cyber-war-kya-hai
दोस्तों आप सब war के बारे में तो सुना ही होगा. लेकिन क्या आप जानते है की cyber war kya hota hai? या Digital war kya hota hai? war में तो fighter plane, militry, army से लड़ी जाती है. लेकिन यह cyber war kaise ladi jati hai?
चुकी आज के समय में हम लोग जो भी काम कर रहे है वो सब online है.  अर्थात हम जो भी कार्य कर रहे है वो सारे कार्य internet के माध्यम से कर रहे है. तो संभव है की भविष्य में युद्ध भी internet के माध्यम से ही लड़े

शुक्रवार, 14 जुलाई 2017

digital signature kya hai aur kaise kaam karta hai?

जुलाई 14, 2017 2
digital-signature
दोस्तों क्या आप जानते है की digital signature kya hota hai? और यह digital signature kaise kaam karta hai? इस समय सब कुछ डिजिटल हो रहा है. तो हमारा signature क्यों नहीं?
किसी भी document पर signature का मतलब होता है की हम उस पर लिखे गए जानकारी से सहमत है. और उस को  हमने पूरा पढ़ कर signature किया है. लेकिन digital signature का नाम आते ही मन में एक संदेह लगा रहता है की क्या यह पूरी तरह सुरक्षित है. और क्या यह पुराने signature के बेहतर है.तो इस चर्चा करने से पहले हम यह जान लेते है की digital signature aur paper signature me antar kya hai?

गुरुवार, 13 जुलाई 2017

TF aur CF kya hai? Trust Flow and Citation Flow in Hindi

जुलाई 13, 2017 0
TF-aur-CF-kya-hai
दोस्तों  क्या आप जानते है की  TF aur CF kya hai? Trust Flow and Citation Flow kya hota hai.  यदि आप एक ब्लॉगर है, तो आप अपने ब्लॉग के लिए जरुर backlink बनाते होंगे.  लेकिन क्या आप जानते है की यह backlinks यदि high quality का न हो तो यह आपके blog को पोपुलर होने से पहले ही बर्बाद कर देगा. और यदि आप backlinks नहीं बनाते है तो यह आपका ब्लॉग कम समय में लोकप्रिय नहीं हो सकता है.
सिर्फ इतना ही नहीं यदि आप का ब्लॉग का high quality backlinks नहीं है तो वह search engine में भी हाई रैंकिंग नहीं पायेगा. इसीलिए backlink एक बहुत ही जरुरी seo techniques है.  और इसी backlinks का एक हिस्सा TF और CF है.

Blog ka TF and CF ratio kya hona chahiye?

Trust Flow क्या होता है?

जब भी आप अपने ब्लॉग के लिए backlinks बनाये तो आपको trust flow यानि TF  का  ध्यान रखना होगा.
किसी भी blog का TF या trust flow ब्लॉग के backlinks की quality और relevancy को बताता है.  आप trust flow metrics की मदद से यह जान सकते है की आप के द्वारा बनाये गए backlinks high quality के है या low quality के.
यदि आप ने backlinks तो बहुत बनाये लेकिन TF जीरो है तो आपके ब्लॉग का backlinks low quality का है.  और यह आपके search रैंकिंग को प्रभावित कर सकती है.
कभी भी backlinks को high अथॉरिटी website से ही बनाना चाहिए. और ज्यो ज्यो ब्लॉग का TF हाई होता जायेगा आपका ब्लॉग SERP में उतनी ही हाई रैंकिंग प्राप्त करेगा.

Citation Flow क्या होता है?

citation flow यानि CF आपको यह बताता है की आपके blog पर कितना links को पॉइंट किया गया है. यह केवल वेब पेज पर पॉइंट किये गए links और root domain की सख्या बताता है.
यदि आपके ब्लॉग का TF काफी कम है और CF बहुत ही ज्यादा है तो हो सकता है की भविष्य में आपको google पेनाल्टी का सामना करना पड़े. क्योकि google algorithm के हिसाब से TF और CF का ratio 1 : 2 से ज्यादा नहीं होना चाहिए.
अर्थात यदि आपके ब्लॉग का TF 15 है और CF 80 है तो आप यह जान लीजिये की आपके ब्लॉग पर नेगेटिव SEO इफ़ेक्ट है.


ब्लॉग का  TRUST FLOW और CITATION FLOW  की  कैसे जाँच करें ?

ब्लॉग का TF और CF की जाँच करने के लिए सबसे बेहतरीन टूल majestic site explorer है. इसके द्वारा आप बहुत ही आसानी से TF और CF की जाँच कर सकते है.  इस website के द्वारा आप अपने ब्लॉग का trust flow, citation flow, external backlinks, reffering domains, reffering IPs, Referring Subnets की जानकारी पा सकते है.

Website का Trust Flow बढाने का तरीका

  • जब कोई ब्लॉग्गिंग शुरू करता है तो वह सबसे बड़ी गलती यह करता है की बिना वेबसाइट की अथॉरिटी की जाँच किये ही वह backlinks बना देता है. जिससे उनको नुक्सान उठाना पड़ जाता है.
  • यदि आप high अथॉरिटी वेबसाइट से dofollow links बनाये तो ब्लॉग का TF बढ़ जायेगा.
  • यदि आप पहले ही बहुत ज्यादा मात्रा में  low quality backlinks बना लिए है तो आप पहले उनको रिमूव कीजिये. जैसे आप bad quality backlinks को रिमूव करते है तो आपके blog का trust flow बढ़ सकता है.
  • कभी भी बहुत ज्यादा मात्र में nofollow backlinks नहीं बनाना चाहिए क्योकि इससे रेफ्फेरल ट्रैफिक तो मिलता है लेकिन citation flow भी बढ़ जाता है. जो seo के हिसाब से ब्लॉग के लिए बिलकुल सही नहीं है.
  • आप हमेशा backlinks बनाने के लिए ऐसी website का चुनाव कीजिये जिनकी अथॉरिटी अच्छी हो. चाहे यह backlinks comment के द्वारा बनाये या गेस्ट पोस्ट के द्वारा.
  • कभी भी ऐसे website पर backlink को न  बनाये जो dofollow link प्रोवाइड  न करे.और जिसका DA बेहतर न हो. क्योकि ऐसी website से backlinks लेने पर आपके ब्लॉग का Trust Flow बढ़ने के बजाय Citation Flow  बढ़ जायेगा. जिससे आपके blog को नुकसान हो सकता है.
  • कभी कभी  unwanted वेबसाइट से भी backlinks मिल जाती है. जो आपके blog के niche से रिलेटेड नहीं होती है.  इससे भी blog का tust flow बढ़ने की बजाय citation flow बढ़ जाता है. अगर इस प्रकार के backlinks आपके blog के है तो आप उन्हें जीतनी जल्दी हो सके रिमूव कर दीजिये.
  • यदि किसी वेबसाइट पर गेस्ट पोस्ट लिखते है तो इस बात का ध्यान रखिये की वह website high अथॉरिटी वाली हो. और वह आपको dofollow backlinks प्रोवाइड करे.
किसी भी ब्लॉगर के लिए किसी high authority website से dofollow backlinks पाना मुस्किल हो सकता है. लेकिन नामुमकिन नहीं. यह एक चैलेंज की तरह है जिसे कोशिश करके ही पाया जा सकता है.
यदि कोई ब्लॉगर अपने blog के लिए high trust flow या high authority वाली website से 2 या 3 backlinks बना ले तो वह एक समय brand बन कर सबके सामने आ जायेगा.

Conclusion

यदि आप backlinks बनाते है तो उसका प्रभाव लगभग एक महीने के बाद ही दिखाई देता है.  लेकिन किसी भी ब्लॉग का trust flow और citation flow हर रोज बदलता रहता है.  यदि आप trust flow और citaion flow पर कण्ट्रोल कर लिए तो आप का blog बहुत जल्द ही फेमस हो जायेगा.
मुझे उम्मीद है की आज का रह आर्टिकल TF aur CF kya hai? Trust Flow and Citation Flow आप लोगो को जरुर पसंद आया होगा और इसे आप अपने मित्रो के साथ facebook, twitter पर जरुर शेयर करे. 

बुधवार, 12 जुलाई 2017

android mobile ke locked images aur video file kaise dekhe

जुलाई 12, 2017 0
android-mobile-ke-locked-images-aur-video-file-kaise-dekhe
दोस्तों आज हम आप लोगो को बताएँगे की android mobile ke locked images aur video file kaise dekhe ? अर्थात कैसे आप किसी के भी मोबाइल के loked Images, video file या gallery के सभी कंटेंट को बिना password जाने कैसे देख सकते है
आप सभी लोग जानते ही होंगे की सभी एंड्राइड यूजर या आप स्वयं ही अपने मोबाइल फ़ोन के गैलरी को किसी भी लॉक्ड app की मदद से लॉक्ड रखते है. ताकि आप के उन पर्सनल फाइल्स को कोई अन्य न देख सके.

सोमवार, 10 जुलाई 2017

forum posting se backlinks kaise banaye ?

जुलाई 10, 2017 0
forum-posting
दोस्तों आज मैं आप लोगो को forum posting se backlinks kaise banaye ? के बारे में बताऊंगा की आप किस प्रकार से और किस forum में posting के द्वारा backlink बना सकते है. क्योकि बिना इसके आप का blog सफलता की उचाई को नहीं छू पायेगा. और forum posting kaise karte hai  ?
मैंने पिछले पोस्ट में ही बता दिया है की यदि आप चाहते है की आप एक सक्सेसफुल ब्लॉगर बने तो इसके लिए आपके blog पर high quality backlink जरुर होने चाहिए. और high quality backlinks बनाने का ही एक तरीका है forum posting.

शनिवार, 8 जुलाई 2017

PDF file Submission se backlinks kaise banaye ?

जुलाई 08, 2017 0
PDF-file-Submission-se-backlink-kaise-banaye-1
दोस्तों आप लोग backlinks बनाना जानते ही होंगे लेकिन क्या आप जानते है की अपने ब्लॉग के लिए PDF file Submission se backlinks kaise banaye? यदि आप यह सोच रहे होंगे की pdf file से backlinks कैसे बनाया जा सकता है. आज हम आप लोगो को इसी विषय में बताएँगे की किस प्रकार से आप pdf file को विभिन्न वेबसाइट पर अपलोड कर के high pr backlins बना सकते है जिससे आप की सर्च इंजन रैंकिंग बढेगी और साथ में आपका ट्रैफिक भी बढेगा. और अपका ब्लॉग जल्द ही पोपुलर हो जायेगा. तो चलिए सबसे पहले यह जान ले की pdf file submission क्या होता है?

शुक्रवार, 7 जुलाई 2017

HEIF kya hai? High efficiency Images File Format (Hindi)

जुलाई 07, 2017 0
HEIF-kya-hai
दोस्तों आप जानते है HEIF kya hota hai? High efficiency Images Format (Hindi) आज मैं आप लोगो को इमेज के नए फॉर्मेट के बारे में बताएँगे जिससे आप अपनी इमेज फाइल को बहुत कम साइज़ में हाई क्वालिटी की इमेज को स्टोर कर सकते है.
लेकिन यह केवल अभी iPhone यूजर के लिए ही है जो iOS 11 में आ रहा है.  और सबसे ज्यादा परेशानी भी iPhone यूजर को ही होती है क्योकि उसमे मेमोरी कार्ड लगता नहीं है. और एक समय के बाद स्टोरेज फुल होने लगती है तो यूजर यह सोचने लगता है की कौन से इमेज को रखे और किस को डिलीट करे.

गुरुवार, 6 जुलाई 2017

hard disk drive vs solid state drive (Hindi) | who is the best?

जुलाई 06, 2017 0
HDD-vs-SSD-Hindi
दोस्तों आज हम आप लोगो को बताएँगे की hard disk drive (HDD) or solid state drive (SSD) me behtar kaun hai. चुकी दोनों डाटा स्टोरेज के लिए इस्तेमाल की जाती है. इसीलिए अक्सर लोग   कंफ्यूज हो जाते है की laptop या डेस्कटॉप के लिए कौन सा ड्राइव बेहतर होगा. आज हम आपके इस confusion दूर कर देंगे.
अगर आप  एक चीज़ पर ध्यान दिए होंगे तो आपको पता होगा की कम स्टोरेज space की  solid state drive (SSD) काफी महँगी होती है. हाई  स्टोरेज स्पेस hard disk drive (HDD) से. सबसे पहले जल्दी से यह जान लेते  है की HDD kya hai? उसके बाद यह जानेगे की SSD kya hai?

बुधवार, 5 जुलाई 2017

fusion energy kya hai? future's energy source (Hindi)

जुलाई 05, 2017 2
fusion-power-future-energy-source
दोस्तों आज मैं आप लोगो को बताऊंगा की fusion power kya hota hai ? future's energy source (Hindi) सभी  लोगो की एक जरुरी आवश्यकता है एक ऐसा पॉवर सोर्स  जिससे हमारा पर्यावरण भी प्रदूषित न हो और  हमें भरपूर पॉवर भी मिलता रहे.  अभी तक  जो भी पॉवर  सोर्स का इस्तेमाल करते आ रहे है उससे हमारे पर्यावरण को काफी नुक्सान हो रहा है.

मंगलवार, 4 जुलाई 2017

S.M.A.R.T supported software for HDD or SSD Hindi

जुलाई 04, 2017 0
hdd-smart-utility-software
दोस्तों आज हम आप लोगो को HDD or SSD smart utility software (Hindi) के बारे में  बताएँगे की वे कौन -कौन से सॉफ्टवेयर है, जो  hdd or ssd के लिए smart का समर्थन करते है. पिछले पोस्ट में मैंने बताया था की कैसे hdd smart के जरिये हम अपने hdd या ssd की खराबी को जानते है. लेकिन आज हम hdd की खराबियों का पता करने में अधिकतर प्रयोग किये जाने वाले  फेमस 5 टूल के बारे में जानेंगे. इन tool को जानने के पहले हम यह जान लेते है की hdd के ख़राब होने के क्या कारण है.

सोमवार, 3 जुलाई 2017

HDD smart kya hai? self monitoring and analysis reporting tool

जुलाई 03, 2017 0
smart-kya-hai
दोस्तों आज हम बात करेंगे की HDD smart kya hota hai? What is HDD Smart in Hindi?  हम सभी मोबाइल और कंप्यूटर का यूज़ तो करते ही है, और कई बार ऐसा होता है की हमारा सिस्टम चलते चलते ख़राब हो जाता है. और तो कई बार हम अपने कंप्यूटर पर रात भर काम करते है और उसे शटडाउन करके सोते है, लेकिन जब अगले दिन उस कंप्यूटर पर काम करने के लिए उसे ऑन करते है तो कंप्यूटर एरर देता है और ऑन नहीं जिससे हम समझ नहीं पाते है की यह एरर रैम में है, या cpu में है. या gpu में या हार्ड ड्राइव में है. या खराबी मदर बोर्ड में है यह समझ में नहीं आता है.