रविवार, 16 जुलाई 2017

Breathalyzer Kya Hai aur Yah Kaise Kaam Karta Hai?

3 comments

breathalyzer
दोस्तों क्या आप जानते है की breathalyzer kya hota hai aur yah kaise kaam karta hai? या blood alcohol ki janch kaise ki jati hai? कोई अल्कोहल का सेवन करके गाड़ी ड्राइव करता है और उसे पुलिस पकड़ लेती है तो वह आखिर कैसे जान जाती है की गाड़ी ड्राइव करने वाले ब्यक्ति ने कितनी मात्र में अल्कोकोल का सेवन किया है.
ड्रिंक एंड ड्राइव कभी नहीं करना चाहिए. यह खुद अपने लिए ही घातक है. ड्रिंक करने के बाद गाड़ी ड्राइव करने पर हो सकता है की आप उसे ढंग से ड्राइव न कर पाए और कही टक्कर लग जाये.

Blood Alcohol concentration poori jankari HIndi me

breathalyzer kya hota hai

यह कैसे पता लगाया जाये की कोई भी ड्रिंक करके गाड़ी ड्राइव कर रहा है. किसी भी इंसान को देख कर या उसके हाव भाव देख यह नहीं जज किया जा सकता है की वह इसान ड्रिंक किया हुआ है.
Robert Frank Borkenstein जो Indiana State Police में कप्तान थे और बाद में Indiana University Bloomington में प्रोफेसर रहे. उन्होंने 1954 में breathalyzer का अविष्कार किया और 13 may 1954 को इसे ट्रेड मार्क की तरह registerd कराया. उन्होंने ब्लड अल्कोहल का पता करने के लिए chemical oxidence और फोटोमेट्री का प्रयोग किया था.
बाद में इन्होने breathalyzer में ब्लड अल्कोकल का पता करने के लिए इन्फ्रारेड स्पेक्ट्रोस्कोपी का प्रयोग करने लगे.
सन 1967 में tom parry jones जो UWIST के लेक्चरर थे और William 'Bill' Ducie जो एक चार्टेड इलेक्ट्रिक इंजिनियर थे, ने मिलकर पहला इलेक्ट्रॉनिक breathalyzer  बनाया और Lion लेबोरेटरी की स्थापना किया.
blood alcohol का पता करनेके लिए ब्लड सैंपल से भी पता किया जा सकता है लेकिन इसमे ब्लड सैंपल लेकर उसे लैब में भेजना पड़ेगा. तब तक गाड़ी driver अपने घर चला जायेगा.
इसीलिए हमें एक ऐसे device की जरुरत है जो तुरंत ही यह पता लगा ले की ब्यक्ति कितनी मात्र में अल्कोहल का सेवन किया है.

breathalyzer kaise kaam karta hai?

चुकी जैसे ही हम अल्कोहल का सेवन करते है हमारी body उसे तुरंत ही अब्सोर्वे  करना शुरू कर देती है. मतलब यह की हम इसे जहा से इनपुट लेते है और जहा से आउटपुट देते है उसके बीच में ही यह अब्सोर्वे हो जाती है. और यह हमारे फेफड़ो से absorve होकर हमारे ब्लड में मिल जाती है. सांसो के द्वारा पता लग जाता है.
breathalyzer ब्यक्ति के साँस से यह पता लगा लेता है की ब्यक्ति के ब्लड में कितना अल्कोहल है. या ब्यक्ति कितना ड्रिंक किया है.  अब इसमे जो रिजल्ट आता है वो 0.015, 0.08, 0.025 देखने में यह कभी कम है लेकिन यह पता लग जाता है की आपके body में कितना अल्कोकल है.
breathalyzer-table
अब जो रिजल्ट आ रहा है 0.05, 0.08 या जो भी इसका मतलब यह है की यह रिजल्ट आपके per 100 ml ब्लड में अल्कोकल की मात्र को दर्शाता है.  जैसे यदि रिजल्ट आता है की 0.08 तो इसका मतलब यह है की आपके body में 8 ग्राम अल्कोहल प्रति 100 ml ब्लड में है.
breathalyzer-table-2
यह अलग अलग देश में अलग अलग रेंज में होता है.या यह कहे की सभी देशो की अपनी अपनी limit रेंज है. और आप यदि ऊस limit के ऊपर ड्रिंक करके ड्राइव करते है तो वह illigal हो जायेगा.

breathalyzer kitane prakaar ke hote hai.

breathalyzer 3 तरह के होते है.

  1. simple/color breathalyzer
  2. intoxilyzer
  3. alco censor 

simple/color breathalyzer

इसमे जब ड्रिंक किया हुआ ब्यक्ति जब फूक है तो इसका कलर बदल जाता है. और उस बदले हुए कलर के ही हिसाब से यह पता लग जाता है की इस ब्यक्ति के ब्लड में कितना अल्कोकल है.
simple/color-breathalyzer

intoxilyzer

इस प्रकार के breathalyzer में इन्फ्रारेड स्पेक्ट्रोस्कोपी के द्वारा यह पता लगाया जाता है की साँस में अल्कोहल में मोलिकुल्स कितने है. इसमे इन्फ्रारेड किरणों के द्वारा साँस की जाँच करके एक एररलेस  रिजल्ट प्राप्त किया जाता है. और उससे यह पता लग जाता है की ब्यक्ति के ब्लड में अल्कोकल की कितनी मात्र है.
intoxilyzer

alco censor 

यह एक इलेक्ट्रॉनिक breathalyzer device है. इसमे एक फ्यूल सेल का इस्तेमाल किया जाता है. और जब कोई ब्यक्ति इसमे फूक मारता है तो फ्यूल सेल activate हो जाता है और यह तुरंत ही कैलकुलेट करके यह बता देता है की ब्लड में कितना अल्कोकल है.
alco-censor

क्या breathalyzer को cheat क्या जा सकता है?

यदि आप यह सोच रहे है की आप breathalyzer को cheat कर सकते है तो आप गलत है. इसे किसी भी तरह से cheat नहीं किया जा सकता है. यदि इसे cheat करें तो इसमे हम लोगो का ही नुकसान है.
यदि पुलिस हमें ड्रिंक एंड ड्राइव से रोकती है तो पुलिस को हमारी सुरक्षा की चिंता है. तो हमें भी अपने सुरक्षा के बारे में जरुर सोचना चाहिए.

Conclusion

breathalyzer एक बहुत ही बेहतर device है जिसके द्वारा तत्काल ही पता लग सकता है की कोई इंसान ड्रिंक किया है या नहीं और यदि ड्रिंक किया है तो कितना. मैं एक बार फिर से दोहराना चाहता हूँ की हमें कभी भी ड्रिंक एंड ड्राइव नहीं करना चाहिए.

मुझे उम्मीद है की मेरा आज का यह पोस्ट breathalyzer kya hai aur yah kaise kaam karta hai? जरुर पसंद आया होगा. इसे आप अपने मित्रो  के साथ facebook, twitter पर जरुर शेयर करे.

If You Enjoyed This, Take 5 Seconds To Share It

3 टिप्‍पणियां: