शनिवार, 29 जुलाई 2017

Cloud Computing kaam kaise karta hai, iska istemal kaise kare?

2 comments

Cloud-Computing
दोस्तों आप लोग cloud computing का नाम तो जरुर सुना होगा लेकिन क्या आप जानते है की Cloud computing kya hota hai? Cloud Computing kaam kaise karta hai? आज मैं इसी के बारे में आप लोगो को बताऊंगा की कैसे यह काम करता है? Cloud Computing को हम कैसे यूज़ कर सकते है? कही ऐसा तो नहीं है की कही बदलो में कुछ लगा है या यह technology कहा से आई है.

Cloud Computing kya hai?

Cloud-Computing-2
सबसे पहले हम आपको यह बता की इस technology का नाम Cloud Computing क्यों पड़ा. आप यह बिलकुल भी मत सोचिये की ऊपर बदलो में कुछ है और इसी वजह से इसका नाम Cloud Computing पड़ा है.
दरअसल इसका संरचना बिलकुल भी बादलो की तरह से है, और यह हमेशा इधर उधर मूव करता रहता है, कभी यूजर है कभी यूजर नहीं है, यदि है तो वो बनाते बिखरते रहते है. और यह पूरी दुनिया में अपनी सेवाए देती रहती है यह किसी एक ब्यक्ति के लिए नहीं है. जिसके कारण इसका नाम Cloud Computing रखा गया.
इस technology में आप कंप्यूटर में इस्तेमाल होने वाले application software को internet के माध्यम से बिना अपने कंप्यूटर में इंस्टाल किये, कंप्यूटर के ब्राउज़र के द्वारा अपने कंप्यूटर, laptop, टेबलेट और मोबाइल में जब चाहे और जहा चाहे इस्तेमाल कर सकते है.


Cloud Computing ka concept kya hai?

मान लीजिये की आपके पास एक high स्पीड internet है और आपको अपने कंप्यूटर पर फोटोशोप का सबसे लेटेस्ट वर्शन इस्तेमाल करना है. लेकिन आप के कंप्यूटर का configuration ऐसा नहीं है की आप उस पर फोटोशोप का लेटेस्ट वर्शन इनस्टॉल नहीं हो पायेगा. तो इस स्थिति में आप के पास दो रास्ते है.
पहला तो आप एक नया कंप्यूटर खरीद ले और वह सॉफ्टवेयर भी उसमे इंस्टाल कर दे, या दूसरा  रास्ता यह है की आप किसी का कंप्यूटर किराये पर ले ले और अपने high स्पीड internet के द्वारा अपने कंप्यूटर के ब्राउज़र से किराये वाले कंप्यूटर पर फोटोशोप ओपन कर के अपना काम कर ले.
Cloud Computing भी दुसरे तरीके पर ही काम करती है.  यदि आप यह सोच रहे है की Cloud Computing सिर्फ डाटा स्टोरेज के लिए है तो आप बिलकुल भी गलत है. इसमे  डाटा स्टोरेज के साथ साथ आप बहुत से सेवाओ को भी इस्तेमाल कर सकते है.यदि आप अपने कंप्यूटर पर high end game खेलना चाहते है तो आपके पास एक high end कंप्यूटर नहीं चाहिए बल्कि आपके पास एक high end internet चाहिए. या online फोटोशोप का इस्तेमाल कर सकते है. तब इसे अपने कंप्यूटर में इंस्टाल करने की जरुरत नहीं होती है.  आप माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस को online इस्तेमाल कर सकते है.
Cloud-Computing-3

Cloud Computing Provider company ke Naam 

बहुत सी कंपनी है जो इस सर्विस को प्रोवाइड कराती है. जैसे
  1. google drive
  2. box
  3. amazon
  4. Microsoft Sky Drive
  5. Yandex.Disk Claudsrvis
  6. 4Sync
  7. Drop Box
आदि इन सभी कम्पनी का अलग अलग प्लान है अलग अलग price है कुछ company यह सर्विस free में भी प्रोवाइड करती है. तो कुछ कम्पनीज इसके लिए कुछ मंथली रेंट लेती है.

Cloud Computing ka use kaise kare?

इसका इस्तेमाल करने के लिए जो कंपनी यह सर्विस प्रोवाइड करती है उनके website पर जाकर signup करके एक अकाउंट बना लीजिये और उसके सर्विस का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिये.

Cloud Storage kya hai?

जब हम अपने फाइल या डाक्यूमेंट्स को अपने लोकल कंप्यूटर में न रख कर उसे internet के माध्यम से किसी अन्य स्टोरेज प्रोवाइड करने वाली कंपनी के सर्वर में रखते है तो इसे ही cloud storage कहते है. इसमे फाइल के डिलीट होने या corrupt होने का भी डर नहीं होता है. इन फाइल को हम किसी भी देश से किसी भी समय ओपन एडिट या प्रिंट कर सकते है.

Cloud Computing se fayda?

  1. सभी files का online व offline backup रहता है. user को बैकअप की चिंता करने की जरुरत नहीं होती है? डाटा को सेफ रखने का सारा जिम्मा कंपनी का होता है.
  2. files को किसी कभी भी कही भी  open करके काम किया जा सकता है.
  3. files को एक साथ कई स्‍थान पर भी बहुत ही आसानी से Share किया जा सकता है.
  4. computer खराब होने की दशा में किसी भी new Computer में files backup बहुत ही आसानी से लिया जा सकता है.
  5. files को एक साथ Mobile, computer, laptop, tablet में और भिन्न भिन्न स्थानों पर एक साथ access किया जा सकता है.
  6. इस सुविधा  का लाभ आप free में भी ले सकते हैं। लेकिन सिर्फ कुछ कम्पनीज के द्ववारा.
  7. इसके लिए अपने स्थानीय कंप्यूटर में कोई Additional hardware नहीं लगाना पड्ता है. सिर्फ स्पीड internet की जरुरत होती है.
  8. इसका इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है यह एक Computer / Windows Explorer की तरह ही दिखाई देता है.
  9. आप अपने files को online भी edit कर सकते है.
  10. यहॉ सबसे बडा फायदा यह है कि इसमे कोई भी फाइल साइज़ लिमिट नहीं होती है. किसी भी size की file को online Share किया  जा सकता है.  जैसा कि आपको पता होगा कि email के करने के दौरान File attachment 25MB से ज्‍यादा का मान्‍य नहीं होता है, किन्‍तु इसमें आप किसी भी size की file को online Share आर सकते है.
  11. दुनिया के किसी भी कोने में किसी भी समय आप  अपनी Document को यूज़ कर सकते है.
  12. cloud storage में आप 5 GB से लेकर 25 GB तक का Data Online Storeकर सकते है. यदि इससे अधिक की जरुरत है तो आप कम्पनी को कुछ रेंट देकर storage space को बढ़ा सकते है.
  13. यदि आप किसी कंपनी या फ़र्म के मालिक है तो और आपको इस सर्विस की सेवा लेने पर आपके कंपनी को किसी भी प्रकार के मेंटिनेंस की चिंता नहीं रहेगी और और आपका डाटा भी सुरक्षित रहेगा.
  14.  भविष्य में कर्मचारियों की संख्या के बढ़ने पर आप इसे आसानी से अपग्रेड भी कर सकते है. 

Conclusion

Cloud Computing अभी धीरे धीरे अपना पैर पसार रहा है. और वह दिन दूर नहीं जब हम लोगो के कंप्यूटर में सिर्फ और सिर्फ एक operating system के साथ एक browser रह जायेगा और हम internet और Cloud Computing की द्वारा अपने कंप्यूटर पर सारा काम कर सकेंगे.
मुझे उम्मीद है की Cloud Computing kya hai? आप लोगो को अच्छी तरह समझ में आ गया होगा और यह आर्टिकल भी जरुर पसंद आया  होगा. इसे आप अपने मित्रो के साथ जरुर सोशल मीडिया पर जरुर शेयर करें.
If You Enjoyed This, Take 5 Seconds To Share It

2 टिप्‍पणियां: