शनिवार, 26 अगस्त 2017

Blogging aur Youtube me se Kisko Chune, Kisme hai Jyada Fayda?

 Blogging-aur-Youtube
दोस्तों यदि आप भी Blogging aur Youtube में कैरियर बनाने के लिए सोच रहे है और कंफ्यूज है की किसको एक कैरियर की तरह से चुने तो आज का यह आर्टिकल आप ही के लिए है और यदि आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ लेंगे तो आप का सारा confusion दूर हो जायेगा. और आप एक दम से फ्रेश होकर अपने पसंद के अनुसार किसी एक को कैरियर की तरह चुन सकते है. इसीलिए आज हम आपको blogging और youtube दोनो के बारे में डिटेल से बताऊंगा Blogging aur Youtube/Vlog me kya antar hai?

Blogging kya hai?

Blog असल में weblog शब्द से लिया गया है. यह एक ऑनलाइन डायरी या जर्नल की तरह से होता है. यह पूरी तरह से टेक्स्ट आधारित होता है.
blogging में आपको एक वेबसाइट किसी डोमेन या subdomain के साथ बनाना होता है और उस पर आपको डेली या वीकली या अपने समयानुसार पोस्ट लिख कर डालना होता है. यदि आप चाहे तो किसी कंटेंट राइटर को भी hire करके पोस्ट लिखवा सकते है. और यदि आप खुद भी लिख सके तो यह बहुत ही बेहतर बात है.आप किसी भी एक टॉपिक को सेलेक्ट करके उस टॉपिक पर आर्टिकल लिख कर पब्लिश कर सकते है.


Blogging ke liye requirment

  • Domain name और hosting खरीदनी पड़ेगी.
  • Writing की जानकारी होनी चाहिए और यदि आप खुद write नहीं करना जानते है तो किसी कंटेंट राइटर को hire करना होगा और उसे भी पेमेंट करना पड़ेगा.
  • आपको रेगुलर पोस्ट लिख कर अपलोड करना पड़ेगा.
  • SEO (Search engine optimization) की अच्छी जानकारी होनी चाहिए.

Youtube kya hai?

Youtube एक vlog है जो पूरी तरह से विडियो पर आधारित होता है. और इसमे आपको विडिओ के द्वारा ही अपने दर्शको को जानकारी दिया जाता है.
अब जहा तक बात youtube की है तो इसमे आप को किसी भी एक विषय पर विडिओ बनाना होता है और youtube पर एक चैनल क्रिएट कर के उस पर उस विडियो को पब्लिश करना होता है. इसमे भी विडियो को आप खुद भी शूट कर सकते है या किसी की सहायता से शूट कर सकते है.

Youtube channel ke liye requirement

  • आपके पास एक बढ़िया कैमरा होना चाहिए
  • video एडिटिंग की जानकारी होनी चाहिए.
  • Youtube SEO की जानकारी होनी चाहिए.
  • यदि requirement के हिसाब से देखा जाये तो आपको पता लग जायेगा की youtube पर चैनल बनाना ज्यादा आसान है. लेकिन यह नहीं भूलना चाहिए की सब चीजों की तरह से इनमे भी कुछ पॉजिटिव बातो के साथ कुछ negative बाते भी है.

Blogging vs Youtube/Vlog या Blogging aur Youtube/Vlog me Antar kya hai?

  1. Blogging टेक्स्ट आधारित होता है और इसमे आप टेक्स्ट के साथ इमेजेज का प्रयोग तो कर सकते है लेकिन अपनी बातो को टेक्स्ट के द्वारा ही लोगो को बताई जाती है.
  2. जबकि Youtube में अपनी बातो को केवल  विडियो के साथ ही पेश किया जा सकता है. इसी कारण इसे Vlog या video blog भी कहते है.
  3. Blogging के लिए hosting और एक domain  का होना जरुरी है.जबकि youtube/Vlog  के लिए होस्टिंग और domain की जरुरत नहीं होती है. इसे gmail ID के द्वारा youtube.com पर चैनल फ्री में क्रिएट किया जा सकता है.
  4. Youtube में revenue के लिए केवल एक ही ad network adsense है. जबकि blog के लिए बहुत से ad network मौजूद है. जिनका इस्तेमाल करके आप revenue बना सकते है.
  5. Youtube के लिए बहुत ज्यादा जानकारी की जरुरत नहीं होती है. इसके लिए आपको अपने टॉपिक के सिवाय विडियो एडिटिंग आनी चाहिए. जबकि ब्लॉग्गिंग में आपको SEO, backlinks, domain, Hosting, theme की भी जानकारी होनी चाहिए.
  6. Blog पर व्यूज Youtube/ Vlog के अपेक्षा कम होता है. Vlog पर व्यूज बहुत जल्द ही मिलियन में पहुच जाते है. जबकि Blog में ऐसा होने में बहुत समय लग जाता है.
  7. Blog का CPC (Cost per Click) RPM( 1000 ad view par earning) ज्यादा होता है. इसीलिए इस पर कम विजिट होने पर भी कमाई ज्यादा हो सकती है. लेकिन youtube पर CPC और RPM कम होने के कारण ज्यादा व्यूज होने पर ही अच्छी कमाई हो सकती है. 
  8. Blog में आप कई जगह पर ad लगा कर कर कम व्यूज में भी अच्छी कमाई कर सकते है लेकिन youtube पर अप ऐसा नहीं कर सकते है.

Blogging aur Youtube me se Kisko Chune,  Kisme hai Jyada kamaai?

जहा तक बात सेलेक्ट करने की है तो आप किसी भी को चुन सकते है लेकिन आप उसी को चुने जिसमे आपका इंटरेस्ट हो यदि आप यह सोच कर की इस क्षेत्र में ज्यादा कमाई है तो उसी को करेंगे तो आप कुछ ही दिन में उसे छोड़ देंगे. क्योकि आपका ध्यान सिर्फ पैसो पर रहेगा और जब भरपूर पैसा नहीं आएगा तो आपका मन काम करने ने नहीं लगेगा.
आप उसको चुनिए जिसमे आप का मान हो और उसे आप आसानी से कई सालो तक कर सके. लेकिन मेरा यह सलाह है की आप किसी को भी चुने लेकिन फुल टाइम कैरियर की तरह से किसी को भी सेलेक्ट न करें. इसे हमेशा एक पार्ट टाइम कैरियर की तरह से ही शुरू करें और जब बाद में आप इस क्षेत्र में सफल हो जाये तो इसे फुल टाइम कर सकते है.
नाम, दाम और शोहरत तो यह दोनों में ही है लेकिन इस क्षेत्र में असफलता का ज्यादा चांस है, क्योकि यह कोई जॉब नहीं है. इसमे यदि अपने मन से काम नहीं किया तो सफलता कई वर्षो तक नहीं मिल सकती है.

Conclusion

और अंत में मैं यही कहूँगा की आप एक साथ दोनों को ही शुरू कर सकते है. लेकिन इसे एक सीरियस जॉब की तरह करें तो आपको सफलता जरुर मिल सकती है.
मुझे उम्मीद है की आज का यह पोस्ट Blogging aur Youtube me se Kisko Chune,  Kisme hai Jyada kamaai? जरुर पसंद आया होगा और अब आप जान गए होने की Blogging aur Youtube/Vlog me kya antar hai? यदि पोस्ट आपको पसंद आया है तो आप इसे अपने मित्रो के साथ जरुर शेयर करे.

3 टिप्‍पणियां: