बुधवार, 16 अगस्त 2017

Domain Authority kya hota hai aur isse kya fayda hai?

Domain-authority-DA
दोस्तों आज हम आप लोगो को बताएँगे की domain authority kya hai aur isase kya fayda hai? यदि आप ब्लॉगर है तो आज का यह पोस्ट आपके लिए बहुत ही लाभदायक हो सकता है. क्योकि इस इन्टरनेट की दुनिया में हर रोज हजारो वेबसाइट और ब्लॉग ओपन होते है और यह सोचते है की वे बहुत ही जल्द एक फेमस ब्रांड बन जायेंगे लेकिन सर्च इंजन में हाई रैंकिंग न प्राप्त करने के  कारण ब्लॉग पर ट्राफिक नहीं आती है और ब्लॉग फेमस नहीं हो पाते है. इसका एक कारण यह भी है की उन ब्लॉग का DA (domain authority) का low होना.

Domain Authority kya hai?

दरअसल DA (domain authority) एक वेबसाइट या ब्लॉग के domain का measurement है जिसे moz कंपनी ने डेवेलोप किया है. यह domain age, backlink quality, और उस domain पर कंटेंट quality और क्वांटिटी पर निर्भर करता है. SEO के लिए domain authority को बढाना बहुत ही जरुरी होता है. क्योकि यह सर्च इंजन में रैंकिंग को प्रभावित करता है. DA को बढ़ा कर सर्च इंजन में हाई रैंकिंग प्राप्त किया जा सकता है और सर्च इंजन में हाई रैंकिंग से हाई ट्रैफिक भी प्राप्त किया जा सकता है.
अलग अलग वेबसाइट का DA भी अलग अलग होता है. नयी वेबसाइट या ब्लॉग का DA शुरू में बहुत ही कम होता है. और जैसे जैसे वेबसाइट पर कंटेंट और backlinks बढते जाते है वेबसाइट का DA भी बढ़ता जाता है. लेकिन किसी किसी  वेबसाइट का ही DA 100  हो पाता है.

Domain Authority ko kaise check kare?

इन्टरनेट पर बहुत से टूल है जिनसे आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट के DA की जाँच कर सकते है. लेकिन आप https://moz.com/researchtools/ose/ इस टूलका प्रयोग करके अपने वेबसाइट के  DA की जाँच कर सकते है.  जैसे ही आप इसे ओपन करेंगे इसमे domain कोपे करने के लिए एक इनपुट बॉक्स दिखाई देगा वहा पर आप अपने domain को टाइप कर दे यह आपके domain का DA और page authority को दिखा देगा.
moz सिस्टम किसी भी वेबसाइट को रैंकिंग देने के लिए 40 फैक्टर को चेक करता है जैसे वेबसाइट के backlinks क्या है. और वेबसाइट पर किस प्रकार की कंटेंट है और कितने कंटेंट है और उन्ही 40 फैक्टर के आधार पर यह वेबसाइट की रैंकिंग करता है.
किसी भी वेबसाइट का DA स्थिर नहीं रहता है यह या तो बढ़ता है या फिर घटता है. यदि यह बढ़ रहा है तो आपके वेबसाइट लिये बहुत ही अच्छी बात है लेकिन यदि घाट रहा है तो यह बहुत ही खराब संकेत है और उन कारणों का पता लगा कर दूर करना ही सबसे बेहतर है.


Website/ Blog ka domain authority kaise badhaye?

चुकी page का domain authority कई बातो पर निर्भर करता है. और अपने ब्लॉग का DA बढ़ने का मतलब है की सर्च इंजन से हाई ट्रैफिक पाने का चांस का ज्यादा हो जाना.
  • जो वेबसाइट ब्राउज़र में जल्दी ओपन हो जाती है. अर्थात जिस वेबसाइट या ब्लॉग का page लोड टाइम जितना ही कम होगा.  उसका DA हमेशा हाई होता है. इसीलिए ब्लॉग का page load टाइम पर हमेशा ध्यान देना चाहिए की यह कम से कम रहे.
  • social media आज हर क्षेत्र में उपयोगी साबित हो रही है. social media पर वेबसाइट कंटेंट को पब्लिश करने से वेबसाइट पर रेफरल ट्रैफिक मिलता है. और यह वेबसाइट की ब्रांड वैल्यू को बढाता है. यह बहुत ही बेहतर तरीका है ज्यादा से ज्यादा विजिटर के पास पहुचने का और अपनी जानकारी को अधिक से अधिक लोगो तह पहुचने का. इस पर जितने ज्यादा follower होंगे उतने ही ज्यादा domain authority हाई होगा.
  • domain authority को हाई करने का एक तरीका यह भी है की आप अच्छी वेबसाइट पर से backlinks प्राप्त करे. क्योकि High PR backlinks से domain authority को हाई किया जा सकता है. और इससे page authority भी बढ़ जाता है.
  • जब भी आप नया आर्टिकल लिखे तो उसमे ब्लॉग के हाई रैंकिंग प्राप्त पुराने आर्टिकल का लिंक भी जरुर दे. इससे ब्लॉग का बाउंस रेट काम हो जायेगा और domain authority भी हाई हो जायेगा. इससे नए आर्टिकल से पुराने आर्टिकल पर भी विजिटर जायेंगे. जिससे बाउंस रेट कम हो जायेगा. और आर्टिकल पर ज्यादा विजिटर आने लगेंगे.

  • अपने ब्लॉग के टॉपिक से सम्बंधित दूसरी ब्लॉग पर कमेंट करें. और वहा से do follow backlinks प्राप्त करे. इससे वेबसाइट की ट्रैफिक तो बढाती ही है साथ में इसकी domain authority भी बढती है. दो  तीन फोरम भी ज्वाइन करें और वहा पर भी अपने ब्लॉग के बारे में लोगो को बताये और उनकी समस्याओ को हाल करें. वहा से भी ट्रैफिक आप की वेबसाइट पर आणि शुरू ही जाएँगी.
  • अपने ब्लॉग के टॉपिक से सम्बंधित दूसरी ब्लॉग पर गेस्ट पोस्ट लिखे और उस वेबसाइट से dofollow backlinks पा सकते है. लेकिन गेस्ट पोस्ट लिखने से पहले उस वेबसाइट का  domain authority और page authority को जरुर चेक कर ले. low DA वाली साईट पर कभी भी गेस्ट पोस्ट न लिखे.

Conclusion

कुल मिलकर यह कहा जा सकता है की यदि आप अपने ब्लॉग के लिए अच्छी quality का backlinks बनाते है और अपने आर्टिकल को social media पर शेयर करते है और इसके साथ साथ यदि आप अन्य ब्लॉग पर कमेंट भी करते है तो आपके ब्लॉग की domain authority को बढ़ने लगती है.
यदि आपके ब्लॉग की domain authority 100 नहीं है तो चिंता मत कीजिये क्योकि बहुत काम ही ऐसी वेबसाइट है जिनका domain authority 100 है जैसे google.com.
मुझे उम्मीद है की आज का यह आर्टिकल Domain Authority kya hota hai aur isase kya fayda hai? आप लोगो को जरुर पसंद आया होगा. इसे आप अपने मित्रो के साथ social media facebook, twitter पर जरुर शेयर करें.

2 टिप्‍पणियां:

  1. उत्तर
    1. धन्यवाद आप इसी तरह आते तरह आते रहिये. औए अपने विचारो से हमें अवगत कराते रहिये.

      हटाएं