बुधवार, 4 अक्तूबर 2017

blogging क्या होता है, इसमे सफलता कैसे पाये?

blogging
दोस्तों हम सब blogging के बारे में सुनते आ रहे है. हममे से कुछ लोग blogging करते भी होंगे, लेकिन क्या आप जानते है की blogging क्या होता है? संभव है की आप मे से कुछ लोगो को यह पता हो की blogging क्या होता है? लेकिन यदि आप नहीं जानते है तो आज हम आप लोगो को इसी के बारे में बताने वाले है की यह क्या है?

Blogging क्या है?

blogging का मतलब होता है की किसी टॉपिक पर लिखना, ठीक किसी जर्नल की तरह. दुसरे शब्दों में हम कह सकते है की blog एक ऑनलाइन जर्नल होता है जिसके माध्यम से ब्लॉगर अपने पर्सनल, प्रोफेशनल अनुभव या अपने अचीवमेंट, आईडिया, पैशन, हॉबी, लाइफस्टाइल  को इन्टरनेट के माध्यम से दुसरे लोगो के साथ शेयर करता है.  अब प्रश्न यह है की हम blogging के माध्यम से ही इसे लोगो के साथ शेयर क्यों करें?

Blogging क्यों करना चाहिए?

अब यहाँ पर यह प्रश्न उठता है की हमें blogging के माध्यम से ही इसे लोगो के साथ शेयर क्यों करें? या ब्लॉग्गिंग क्यों करना चाहिए?  क्योकि हम अपने  अपने पर्सनल, प्रोफेशनल अनुभव या अपने अचीवमेंट, आईडिया, पैशन, हॉबी, लाइफस्टाइल को इन्टरनेट पर अन्य माध्यम से भी तो दूसरे दे साथ  शेयर कर सकते है. जैसे हम अपने अनुभव, आईडिया, या पैशन को सोशल  मीडिया के द्वारा भी तो शेयर कर सकते है.  लेकिन क्या आपने जो आईडिया या हॉबी को सोशल मीडिया पर शेयर किये है उसके लिए उस वेबसाइट ने आपको पेमेंट किया है. या आपके सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने के लिए आपको सोशल मीडिया पे करता है.  इस प्रश्न का उत्तर होगा नहीं.
आप जो भी सोशल मीडिया पर शेयर करते है. उसके लिए कोई भी वेबसाइट आपको पेमेंट नहीं करती है. लेकिन यदि आप इन्ही चीजों को एक अपना ब्लॉग बनाकर उसके माध्यम से शेयर करे तो इसके लिए आपको पेमेंट भी मिलेगा. और ज्यो ज्यो समय बीतता जायेगा, और आपका ब्लॉग फेमस होता जायेगा आपका पेमेंट भी बढ़ता जायेगा.

Blogging में सफलता के मायने क्या है?

blogging में सफल होने के पहले हमें यह जानना होगा की ब्लॉग्गिंग में सफलता का मतलब क्या है?  और कब आप एक सफल blogger बनेगे?  कुछ blogger के नज़र में सफलता का मतलब है की blog से अच्छी खासी कमाई. कुछ लोगो के विचार यह होता है की blog से किसी को फायदा पंहुचा हो वही सफलता है.
लेकिन मेरा मानना है की जितने भी ब्लॉगर है. उनका प्राइमरी लक्ष्य या सेकंड्री लक्ष्य blogging से पैसे कमाना ही है.  वैसे यह सही भी है, पैसा हर किसी की जरुरत है, और यदि अपने जानकारी या हॉबी से आप पैसा बना सकते है तो जरुर बनाइये. लेकिन इसका मतलब यह नहीं की आप सफल है.  लेकिन मेरे हिसाब से blogging के मायने कुछ और ही है. जैसे
blogging में सक्सेस का मतलब है की आपके ब्लॉग पर अच्छी मात्र में पोस्ट हो. यदि आपके ब्लॉग पर मात्र 10 या 15 पोस्ट है तो यह नहीं कहा जा सकता है की आपका ब्लॉग सफल है क्योकि 10 या 15 पोस्ट विजिटर को engage करके नहीं रख पायेगी.  इस लिए अपने ब्लॉग पर आप उतने पोस्ट तो जरुर रखिये, जिससे आप विजिटर को बांध  के रख सके.
यदि आपके ब्लॉग पर डेली ट्रैफिक नहीं है तो आपका ब्लॉग सफल नहीं है. जितना ज्यादा ट्रैफिक आपके ब्लॉग पर होगा, आपका ब्लॉग उतना ज्यादा सफल माना जायेगा. लेकिन इसका मतलब यह नहीं की अप अपने ब्लॉग पर paid ट्रैफिक लाये. फ्री  ट्रैफिक से ही ब्लॉग को सफल माना  जाता है.
blogging में सफलता का तीसरा मापदंड है सोशल मीडिया पर आपके follower यदि आपके ब्लॉग के सोशल मीडिया पेज पर follower नहीं है तो आपका ब्लॉग सफल नहीं माना जा सकता है.

Blogging में सफलता कैसे पाये?

  • यह क्षेत्र भी अन्य क्षेत्र की तरह competition  से भरा हुआ है, और इसमे वही सफल हो पाते है, जो हार नहीं मानते, इस क्षेत्र में सफल होने में साल दो साल का भी समय लग जाता है. लेकिन जो निरंतर प्रयाश करता रहता है वही इसमे सफल भी हो पाता है.
  • यदि आप एक प्लानिंग करके काम करेंगे तो आप इस क्षेत्र में जरुर सफल हो जायेंगे. इसके लिए आप goal सेट कर लीजिये की आप हर महीने कितने पोस्ट लिखेंगे, और सोशल मीडिया पर इसे शेयर करने के लिए कितना समय रखेंगे.
  • फिर आप per day  का goal सेट कीजिये की आप कितने पोस्ट लिखेंगे, और किस समय आप इसे अपने ब्लॉग पर पब्लिश करेंगे.
  • आप एक निश्चित समय पर ही अपने ब्लॉग पर पोस्ट को प्रतिदिन पब्लिश करें.

मुझे उम्मीद है की अब आप  समझ गए होंगे की blogging क्या है? और इसमे सफलता के मायने है. और इस क्षेत्र में सफल होने के लिए कैसे काम करना चाहिए. यदि इस पोस्ट से सम्बंधित कोई सवाल होतो इसे आप कमेंट बॉक्स के जरिये हमसे पूछ सकते है.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें