शुक्रवार, 20 अक्तूबर 2017

camera aperture kya hota hai?

camera-aperture
दोस्तों हम सभी लोग जब भी मोबाइल फ़ोन खरीदने जाते है तो मोबाइल के कैमरा में यदि देखते है की मोबाइल का कैमरा कितने megapixel का है, और सोचते है की यह जितने ज्यादा मेगापिक्सेल का होगा यह उतना भी बढ़िया होगा. लेकिन क्या आप जानते है की ज्यादा megapixel का मतलब यह बिलकुल भी नहीं है की वह कैमरा बढ़िया तस्वीर लेगा. इसके साथ aperture भी बेह्तर होना चाहिए तभी हाई क्वालिटी का पिक्चर लिया  जा सकता है.  आज कम आप लोगो को बताएँगे की camera aperture kya hota hai? लेकिन पहले हम यह जान लेते है की यह मेगापिक्सेल क्या होता है.

hindi blog का seo कैसे करें?
google drive से high quality backlinks कैसे बनाये?
blogging को क्यों छोड़ देते है लोग 

megapixel kya hota hai?


दरअसल megapxel एक मेज़रमेंट यूनिट है, और 1 megapixel 10 लाख megapixel के बराबर होता है. जिससे किसी भी तस्वीर की साइज़ को मापा जाता है जिस मोबाइल का कैमरा जितना ज्यादा मेगापिक्सेल का होगा वह उतना ही बड़ा इमेज कैप्चर करेगा., और उसे बड़े पेपर पर प्रिंट करने पर भी क्वालिटी खराब नहीं होगी.लेकिन वह पिक्चर की क्वालिटी कैमरा के मेगापिक्सेल पर नहीं निर्भर करती है.
megapixel


aperture kya hota hai?

हम जब भी किसी फ़ोन के स्पेसिफिकेशन को देखते है तो उसमे aperture दिया होता है. जैसे  1.7, 1.9, 2.0, 2.2 अब हम सोचते है की आखिर यह aperture होता  क्या है? और यह कैसे हमारे किसी इमेज के क्वालिटी को प्रभावित करता है?

camera-aperture-1

कैमरे के लेंस में जो होल होता है जिससे लाइट कैमरे के लेंस तक जाती है. उस होल को ही aperture कहते है. अब यह अपर्चर जितना बढ़ा  होगा, आपके मोबाइल या डिजिटल कैमरा उतना ही बढ़िया तस्वीर खिचेगा. किसी कैमरे के  अपर्चर  को  f- stop से मापा जाता है जैसे - f/1, f/1.4, f/2, f/2.8, f/4, f/5.6, f/8, f/11, f/16, f/22, f/32 और f/45.
चुकी हम सभी जानते है की किसी भी कैमरे से फोटो क्लिक करने पर उस ऑब्जेक्ट से जो लाइट कैमरा के लेंस पर आती है उसी से कैमरा इमेज को स्टोर कर लेता है. यही कारण है की हम अँधेरे में तस्वीर नहीं ले पाते है. लेकिन यदि उस ऑब्जेक्ट से ज्यादा लाइट भी आये तो भी बढ़िया तस्वीर नहीं ले पाएंगे. बढ़िया तस्वीर के लिए बैलेंस लाइट का होना बहुत ही जरुरी है. जो फोटो को परफेक्ट तस्वीर बनाती है.

कैसे जाने की किस कैमरा का  aperture बड़ा है ?

अब जब आप यह जान गए की ज्यादा बढ़ा aperture से बढ़िया तस्वीर आएगी.  अब प्रश्न  यह है की आप  कैसे जाने की किस मोबाइल कैमरा या डिजिटल कैमरा का aperture बड़ा है या छोटा है. तो इसके लिए आप बस यह जान लीजिये की  जिस अपर्चर  की साइज़ वैल्यू छोटा होगा उससे उतना ही ज्यादा लाइट आएगी. जैसे की यदि किसी मोबाइल फ़ोन के कैमरा का aperture  f/2.2 है, और किसी दुसरे मोबाइल  फ़ोन के कैमरा aperture f/1.8 है तो f/1.8 aperture वाला कैमरा की तस्वीर aperture f/2.2 वाले कैमरा से बढ़िया होगा.
आप सिर्फ एक बात का ध्यान रखिये की  छोटा aperture नंबर = ज्यादा लाइट
camera-aperture-2
अपर्चर  की वैल्यू जितनी कम होगी वह उतनी ज्यादा ही लाइट को लेंस पर डालेगी, और जितनी ज्यादा लाइट लेन्स पर पड़ेगी उतनी ही हाई क्वालिटी की तस्वीर आपका कैमरा क्लिक करेगा.
यह थोडा सा confusing है लेकिन ऐसा नहीं है की इसे आप याद न रख सके और समझ न सके.

aperture के बड़े होने से क्या फायदा है?
camera-aperture-3

यदि आपके फ़ोन का  अपर्चर बढ़ा है तो वह ज्यादा लाइट को  लेंस का पहुचायेगा. जिससे तस्वीर ब्राइट आएगी.
कैमरा के aperture के बडे  होने पर तस्वीर की क्वालिटी ज्यादा बढ़िया आता है.
अपर्चर बड़े होने पर तस्वीर के कलर ज्यादा ब्राइट दिखते है.
Aperture के बड़े होने पर  ऑब्जेक्ट को फोकस कर के बैकग्राउंड को blur किया जा सकता है. जिससे ऑब्जेक्ट बहुत ही बेहतरीन दिखाई देता है.

Aperture Effect  or Blur Background का कारण

आप लोग बहुत से तस्वीर में देखते होंगे की उसमे ऑब्जेक्ट फोकस होता है और उसका बैकग्राउंड blur होता है. या भी aperture का ही प्रभाव है, जिसे अपर्चर  इफ़ेक्ट के नामसे जाना जाता है. जिस  भी फ़ोन का जितना बढ़ा अपर्चर  होगा वह उतना ही बढ़िया से एक फिक्स पॉइंट पर फोकस कर लेगा. और इससे कैप्चर किया गया इमेज बहुत ही बेहतरीन होता है. उसका ऑब्जेक्ट फोकस होता है और बैकग्राउंड blur होता है, और यदि आपका अपर्चर  बहुत ही कम है, तो इससे लिया गया इमेज का ओबजेक्ट और बैकग्राउंड दोनों ही ही एक साथ फोकस रहते है. इसे निम्न चार्ट से समझा जा सकता है.
camera-aperture-4

DSLR Vs Mobile Phone camera

लेकिन यदि आप एक छोटे अपर्चर  वाले DSLR कैमरा की तस्वीर और एक बड़े अपर्चर  वाले मोबाइल फ़ोन कैमरा की तस्वीर की तुलना करेंगे तो DSLR कैमरा की तस्वीर काफी बेहतर होगी, एक मोबाइल फ़ोन की कैमरा  की तुलना में. क्योकि एक बढ़िया इमेज के लिए लेंस, सेंसर, अपर्चर  लेंस की फोकल लेंथ भी जरुरत होती है.
DSLR-vs-Phone
अपर्चर  के आधार पर आप एक ही तरह के डिवाइस की आपस में तुलना कर सकते  है. जैसे आप अपर्चर  के आधार पर दो मोबाइल की तुलना आपस में कर सकते है. अपर्चर  के आधार पर दो DSLR camera की तुलना आपस में कर सकते है.
hindi blog का seo कैसे करें?
google drive से high quality backlinks कैसे बनाये?
blogging को क्यों छोड़ देते है लोग 

Conclusion

अब आप लोग समझ गए होंगे की सिर्फ मेगापिक्सेल के आधार पर आप किसी भी मोबाइल फ़ोन के कैमरे को बढ़िया या घटिया नहीं कह सकते है, और ना ही इसके आधार पर आप बढ़िया तस्वीर ले सकते है. बढ़िया तस्वीर के लिए aperture का बढ़ा होना भी जरुरी है.
मुझे उम्मीद है की आप लोगो को मेरा यह camera aperture kya hota hai? आर्टिकल जरुर पसंद आएगा. इसे आप अपने मित्रो के साथ facebook, twitter पर जरुर शेयर करे.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें