Title Tag का use Search Engine Optimization (SEO) में कैसे करे

title-tag-ka-seo-me-importance-hindi.
title tag : seo के जितने भी आर्टिकल मैंने अभी तक रीड किये है सभी लोग यही बताते है की किस प्रकार से आप अपने blog post को search engine में top पर कैसे रैंक कराये.

blogger एक बढ़िया content लिखता है, उसे पब्लिश करता है और उसे सोशल मीडिया पर प्रमोट भी करता है, लेकिन उसके उस पोस्ट पर ट्रैफिक नहीं आती है.

या उस पोस्ट पर उतनी ट्रैफिक नहीं आ पाती है जीतनी वह deserves करता है. तो उस समय ऐसा लगता है जैसे सारी मेहनत बेकार गई.
title-tag-ka-use-SEO-ke-liye

लेकिन हम सब SEO  के एक बहुत ही महत्वपूर्ण चीज़ को भूल जाते है, वो है हमारे blog post का title tag.

आपके blog की ट्रैफिक के लिए आपके content के साथ साथ आपका Title Tag भी एक प्रमुख स्थान रखता है.

आप अपने title tag को optimize करके अपने ब्लॉग की ranking और ट्रैफिक को बढ़ा सकते है.  यदि आप का ब्लॉग पोस्ट सर्च इंजन में high रैंक है लेकिन उस पर क्लिक नहीं हो रहे है तो इसका कारण आपका TITLE TAG हो सकता है.
आप एक सही title tag का इस्तेमाल करके अपने CTR को बहुत ही ज्यादा बढ़ा सकते है.

अब हम आपको बताए है की कैसे आप एक title tag के use से अपने blog post पर ज्यादा क्लिक पा सकते है.

लेकिन पहले यह जानना होगा की title tag से हम SEO को कैसे बढ़ा सकते है.  लेकिन title tag को जानने से पहले हमें यह जानना होगा की meta tag क्या होता है.


Meta tag क्या होता है.

meta tag और title tag एक दुसरे से जुड़े होते है. और यह search engine optimization के आधार होते है.

meta tag पेज पर दिखाई नहीं देता है. यह पेज के कोडिंग में होता है और search engine result page SERP में दिखाई देता है.

यदि आप के पेज में meta tag नहीं है तो आपको search engine से ट्राफिक नहीं मिलेगी.  meta tag कुछ इस तरह से होता है.

<meta name=”description” content=”This is a meta tag.”>

title tag के अलावा meta description ही वह चीज़ है जो यूजर को आपके ब्लॉग पर जाने के लिए प्रेरित करती है. यदि आपका meta description यूजर को आकर्षित नहीं कर पता है तो आपके ब्लॉग पोस्ट पर यूजर क्लिक नहीं करेंगे.

title-tag-ka-use-SEO-ke-liye

यदि आप meta description को नहीं लिखते है तो google खुद ही आपके content से टेक्स्ट लेकर meta description को SERP में दिखाता है.

लेकिन जरुरी नहीं है की google के द्वारा लिया गया meta description हर बार आपके पेज की सही जानकारी दे पाए.

अब आप meta tag के बारे में जान गए होंगे, अब हम जानेंगे की title tag क्या होता है.

Title tag kya hota hai | What is Title Tag in Hindi

title tag एक tag होता है जो विजिटर और search इंजन को आपके पेज के बारे में बताता  है की वह किस बारे में है.

यह इस प्रकार से लिखा जाता है.

<title>This Is A Title Tag</title>

यह वेब पेज के लिए एक title प्रोवाइड करता है. जिससे search इंजन यह जान सके की यह वेब पेज किस बारे में है.

यह वेब ब्राउज़र के tab में दिखाई देता है, और जब social media पर अपने पोस्ट को शेयर करते है तो यह वहा पर भी दिखाई देता है.

चुकी आज कल blog post के  title को ही title tag की तरह भी इस्तेमाल किया जाता है.

blog post में title tag कैसे जोड़े

यदि आप मैन्युअली अपने web page में title tag जोड़ना चाहते है तो आप html पेज में इसे जोड़ सकते है.

लेकिन यदि आप blogging के लिए आप wordpress, blogspot या blogger का इस्तेमाल कर रहे है तो यह आपके blog post के title को ही उस पेज का title tag बना देता है.

blog post का title ही जब title tag बन जाता है तो हमें अपने ब्लॉग पोस्ट को ही optimize करने की जरुरत होती है.

चलिये अब जानते है की ब्लॉग पोस्ट title को optimize कैसे  करे.

Attractive Title tag कैसे लिखे

search engine के हिसाब से title tag में वह सभी keyword होने चाहिए जिनसे आप रैंक करना चाहते है.

सबसे पहले अपने प्राइमरी keyword को लिखे फिर अपने सेकंड्री keyword को लिखे और अंत में अपने ब्लॉग का नाम लिखे.

example- primary keyword- secondry keyword | Blog Name

लेकिन एक बात हमेशा याद रखना चाहिए की आप जो भी title लिख रहे है वो आप विजिटर के लिए लिख रहे है. कभी भी search engine के लिए title या content लिखने की कोशिश न करें.

यदि आप ऐसा करेंगे तो आपका ब्लॉग पोस्ट spam की श्रेणी में आ जायेगा और वह सर्च रिजल्ट से बहार हो जायेगा.


Title में Numbers का use करे

title में नंबर का इस्तेमाल विजिटर का ध्यान अपनी तरफ खिचता है.  ह्यूमन माइंड नंबर को जल्दी पहचानता है.

बहुत से मर्केटर का कहना है की उनके जिस पेज के title में odd नंबर होते है वो अन्य पेज की तुलना में ज्यादा traffic gain  करते है, और ज्यादा share किये जाते है. even number से ज्यादा odd number विजिटर को attract करते है.

इस लिए title में 10, 20, 50 की जगह पर 7, 9, 11 या इसी तरह के number का इस्तेमाल करना चहिये.
number-in title-tag

Title tag की length

search engine result page (SERP) में title tag की लम्बाई भी बहुत मायने रखती है.

mobile device के लिए इसकी लम्बाई 78 characters और desktop के लिए 70 characters का होना चाहिए.

title tag की लम्बाई इतनी होनी चाहिए की वह SERP में  बिना कटे आपके पेज को explain कर दे.

छोटे title tag लम्बे की अपेक्षा ranking को अधिक प्रभावित करते है. इसलिए अपने title को आप जितना छोटा रख सके रखे.

यदि आप यह चाहते है की आपका blog post, search engine में बढ़िया ranking के साथ ज्यादा क्लिक भी पाए तो आपको इसे 40 characters से 55 characters के बिच में रखना चाहिए.

यह बात हमेशा ध्यान में रखना चाहिए की अपने meta tag और description में ज्यादा context लिखे. ताकि यह सोशल मीडिया पर यह बेहतर प्रदर्शन कर सके.

यदि संभव हो तो अपने blog post में date को जरुर शामिल करे

blog post के title में date को include करे

यदि संभव हो तो आप पाने blog post के title में date या year को जरुर जोड़े.

यदि आप कोई seasonal content लिखते है तो उसमे month को भी जरुर add करे.

इससे जब कोई किसी date period के द्वारा search करेगा तो उस सर्च रिजल्ट मे भी आपका ब्लॉग post सामिल हो जायेगा.

अब अगला है की title में what, why, how का क्या महत्व है.
title-tag-me-date-ka-use-seo-ke-liye

question word की जरुरत

आपको अपने title tag में प्रश्न वाले शब्द जैसे what, why, how या क्या, क्यों, कैसे  का जरुर इस्तेमाल करना चाहिए.

जिस प्रकार से नंबर विजिटर का ध्यान खीचते है, वैसे ही प्रश्न सूचक शब्द भी लोगो का ध्यान जल्दी खीचते है.

आप अपने title में एक और दूसरा तरीका भी अपना सकते है, और title में किसी सवाल का जवाब दे सकते हैं.

title tag में CTA (Call to Action) का use

ऐसे वर्ड्स जिस पर  विजिटर बहुत ही क्लिक करते है, या ऐसे वर्ड्स जो विजिटर को क्लिक करने के लिए प्रोत्साहित करते है., और उन विजिटर क्लिक भी ज्यादा करते है.उन्हें ही call to action वर्ड्स कहते है.

इन्हें एक्शन वर्ड्स या ट्रिगर वर्ड्स  भी कहा जाता है. जैसे - buy, download, watch, learn, find, listen, view आदि.

अक्सर blogger इन वर्ड्स का use अपने ब्लॉग पोस्ट, ads में करते है, जबकि अपने title में इसका use करने से बचते है.

जबकि मेरा मानना है की इन वर्ड्स का use विजिटर को आकर्षित करती है, और सर्च से ज्यादा CTR लेती है.
title-tag-me-call-to-action-ka-use

title में एक से अधिक keywords का use 

यदि आप अपने ब्लॉग पोस्ट के title में सिर्फ एक ही keyword का use  करते है तो तो उससे आप ज्यादा CTR नहीं पा सकते है.

इसलिए आपको एक से अधिक keywords का use अपने ब्लॉग पोस्ट के title में करना चाहिए. ताकि विजिटर किसी भी keyword से सर्च करे तो आपका पोस्ट सर्च रिजल्ट पेज पर जरुर आ जाये.

जैसे की - यदि आप के किसी ब्लॉग पोस्ट का title है -"seo क्या है".

तो जो विजिटर seo को सर्च करेगा सिर्फ वही आपके ब्लॉग पोस्ट तह पहुच पायेगा.

लेकिन यदि आप अपने पोस्ट का title - "seo से ब्लॉग पोस्ट को search  में  top rank पर कैसे लाये " लिखते है, और हर keyword को अच्छी तरह से समझाते है.

आपका पोस्ट seo को सर्च करने पर भी दिखेगा और सर्च में टॉप रैंक कैसे पाए इसमे भी दिखेगा.

इस प्रकार से आप title tag का इस्तेमाल करके एक ही पोस्ट को सर्च में कई बार शो कर सकते है,

और सर्च इंजन से ज्यादा ट्रैफिक पा सकते है.

Conclusion

यदि आप एक बहुत ही बेहतरीन पोस्ट लिखते है और तब भी सर्च इंजन से ज्यादा ट्रैफिक नहीं पा रहे है तो आपको अपने ब्लॉग पोस्ट के title tag को भी बदलने की जरुरत है.

जिस प्रकार से पुरुष किसी लड़की की अच्छाई और बुराई जानने से पहले उसके शक्ल, और सुन्दरता को देखते है.

उसी रकार से विजिटर सर्च रिजल्ट में सबसे पहले आपके title tag को ही देखते है.  और यदि उन्हें title प्रभावशाली लगा तो उस रिजल्ट पर क्लिक जरुर करते है.

और यदि आपका title लोगो को प्रभावित नहीं कर पता है तो आप search engine result page (SERP) में टॉप पर आने के बाद भी क्लिक नहीं पा सकते है.

इसलिए आप अपने ब्लॉग पोस्ट के title लिखते समय इस बात का ध्यान रखे की वह 55 character long हो, उसमे किसी question word का use हो या कोई number का use हो जो की odd number हो या date का use किया गया हो.

यदि इस प्रकार से आप अपने ब्लॉग पोस्ट के title tag को optimize किये हुए है तो आप की सर्च इंजन में ranking और क्लिक दोनों निश्चित ही high होंगे.

मुझे उम्मीद है की आज का यह पोस्ट Title Tag का use Search Engine Optimization (SEO) में कैसे करे आप लोगो को जरुर पसंद आया होगा.  इसे आप पाने मित्रो के साथ सोशल मीडिया पर जरुर शेयर करें.

1 comment:

  1. Great article, Thanks for your nice data, the content is quiet attention-grabbing. i'll be expecting your next post.

    ReplyDelete