ABS kya hai? anti lock braking system

ABS kya hota hai ? What is ABS ? और इसका प्रयोग मोटर गाडियों में क्यों होता है | ABS का पूरा नाम anti-lock braking system or anti-skid braking system

ABS-KYA-HAI-ANTI-LOCK-BRAKING-SYSTEM
आज हम बात करेंगे की ABS kya hota hai ?  What is ABS ? इसका प्रयोग मोटर गाडियों में क्यों होता है ?  ABS  का पूरा नाम anti-lock braking system होता है । जिसे anti-skid braking system भी कहते है।  ABS का मुख्य काम फिसलन वाले सतह पर गाड़ी को रोकने वाले दुरी को कम करना होता है।  जिससे गाड़ी की सुरक्षित ड्राइविंग सुनिश्चित हो सके।  गाड़ी में ABS या anti lock braking system होने से  गाड़ी में अचानक ब्रेक लगाने पर गाड़ी के पहिये ko लॉक या ceaseing रोटेशन  के रोकने के साथ  अनियंत्रित फिसलन को रोकता है . जिससे अचानक ब्रेक लगाने पर भी गाड़ी अनियंत्रित नहीं होती और दुर्घटना की संभावना कम हो जाती है , या ख़तम हो जाती है ।

History of ABS 

1920 में फ्रांसीसी ऑटोमोबाइल और विमान के अग्रणी गेब्रियल वोइसिन ने अपने विमान ब्रेक पर हाइड्रॉलिक ब्रेकिंग दबाव को प्रणालियों के साथ प्रयोग किया |  जो tire slippage की  जोखिम को कम करता है । 1928 में   जर्मन इंजिनियर कार्ल वेसेल द्वारा पहली पेटेंट कराया  gaya  लेकिन वेसेल ने कभी भी काम करने वाला product तैयार नहीं किया | इनके 8 साल के बाद Robert Bosch ने भी एक patent लिया लेकिन उन्होंने भी कोई ऐसा उत्पाद तैयार नहीं किया |
1950 के दशक के शुरुआत में dunlop maxaret Anti-skid system पूरे यूनाइटेड किंगडम के विमान में छाया हुआ था | maxaret बर्फीली और गीली सतहों   पर  ब्रेकिंग डिस्टेंस को 30 प्रतिशत कम कर देता था |  जिससे टायर की लाइफ बढ़ जाती थी |

First Vehicle who use ABS Anti-lock braking system

1958 में road research laboratory ने Royal Enfield motorcycle के meteor मॉडल पर maxaret Anti-lock brake का परिक्षण किया. इस टेस्ट से पता चला की यह तकनिकी,  मोटर साइकिल के लिए बेहतरीन साबित हो सकता है, क्योकि यह इससे ब्रेक लगाने पर फिसलन से होने वाली दुर्घटना काफी कम हो सकती थी | Royal Enfield के तकनीकी निदेशक, टोनी विल्सन-जोन्स, सिस्टम में थोड़ा सा भविष्य देखा लेकिन इसे कंपनी के प्रोडक्शन में कोई जगह  नहीं दिया | 1960 के दशक में पहली बार मकेनिकल ABS का  प्रयोग रेसिंग कार Ferguson P99 में किया गया लेकिन यह महंगा और अविश्वसनीय होने के कारण इसका उपयोग बाद में नहीं किया गया |

First Computerized ABS

1971 में क्रिस्लेर ने  Bendix Corporation के साथ मिलकर Imperial    के लिए  पहला कंप्यूटराइज्ड  ABS anti-lock braking system तैयार किया जिसे Sure Brake   नाम दिया गया ।  यहफी विश्वसनीय साबित हुआ और काफी सालो तक इस्तेमाल किया गया ।  1971 में जापानी कंपनी denso ने एक electro anti-lock system विकसित किया जो जापान पहला ABS बन गया ।
1976 में WABCO ने भरी वाहनों के लिए या कमर्शियल वाहनों के लिए ABS का विकास शुरू किया ।
1978 में mercedes -benz ने अपने कार w116 में  एक पहली बार electronic four-wheel multi-channel anti-lock braking system का इस्तेमाल  किया ।

Working of ABS या ABS काम कैसे करता है ?

Anti lock braking system मे सेंसर चारो पहियों के स्पीड को मनोटर करता रहता है । जैसे ही ब्रेक दबाया जाता है । वहां ABS का hydraulic system एक्टिव होकर ब्रेक डिस्क पैड  के द्वारा कार को स्लो या धीमा कर देता है । अगर ABS सिस्टम को लगता है की वाहन का एक पहिया बाकि के  पहियों की तुलना में  तेज़ी से स्लो हो रहा है तो यह ऑटोमेटिकली hydraulic system के प्रेसर को Valve के द्वारा कम कर देता है । जिससे वह पहिया भी बाकि के तीनो पहियों के साथ ही स्लो हो ।
यदि  कोई पहिया काफी कम गति से स्लो हो रहा है तो यह सिस्टम खुद ही प्रेशर बढ़ा देता है ताकि चारो पहिया एक साथ एक बराबर गति से चले ।  चुकी यह क्रिया इतनी तेज़ी से होती है , और हर सेकंड में इतनी बार रिपीट होती है की बैलेंस मेन्टेन करते हुए रुक जाती है ।

ABS यूज़ होने वाले Components

इसमे 4 कॉम्पोनेन्ट का इस्तेमाल किया जाता है ।
  1. Wheel Speed Sensor
  2. Pressure release Valve
  3. Pump or hydraulic motor
  4. Controller modules

1- Wheel Speed Sensor
इसका प्रयोग करके पहियों की स्पीड की जाच की जाती है । यह sensor पहियों के स्पीड   को सेन्स करने का लिए मैग्नेटिक coil के द्वारा सिग्नल गेनेराते किया जाता है ।

2- Pressure release Valve

यह ब्रेक के प्रेशर को नियंत्रित या कम करने के लिए यूज़ होता है।

3- PUMP or Hydraulic Motor

पंप को हाइड्रोलिक ब्रेक्स के presure को बनाने  के लिए उपयोग किया जाता है।

4- Controller modules

पूरी ड्राईवर के ब्रेक दबाने के बाद पूरी क्रिया को नियंत्रित करता है ताकि फिसलन वाले जगहो पर वहां कम से कम फिसले।

ABS के प्रकार या Kind of Anti-lock braking system

Pressure release valve and Speed Sensor के आधार पर यह पांच  प्रकार के होते है ।
  1. One-channel, one-sensor
  2. Two-channel, four sensor
  3. Three-channel, three-sensor
  4. Three-channel, four-sensor
  5. Four-channel, four-sensor

1- One-channel, one-sensor

इसमे एक pressure Valve पीछे के दोनों पहियों के लिए और एक speed sensor होता है जो वाहनों के पीछे एक्सेल के साथ जुड़ा होता है। यह सिस्टम SUV, Pickup Truck आदि में लगा  होता ।
2- Two Channel, four sensor
इस प्रकार के ABS या Anti-lock braking system में पीछे के दोनों पहियों के लिए एक pressure valve लगा होता है । आगे के दोनों पहियों के लिए एक pressure valve लगा होता है।  चारो पहियों के लिए चार sensor लगा होता है ।

3- Three channel, Three sensor

this system पिकप ट्रको में लगाया जाता है । आगे   के पहियों में प्रतेक पहिया के लिए अलग-अलग speed sensor and  pressure valve लगा होता है । पीछे के दोनों पहियो के लिए एक ही pressure valve और एक speed sensor होता है ।

4- Three-channel, four-sensor

इस प्रकार के ABS में  चारो पहियों के लिए अलग-अलग चार  speed sensor लगे होते है । एक pressure valve पीछे के पहियों के लिए और दो pressure valve आगे के दोनों पहियों के लिए लगे होते है । यह सिस्टम पुराने वाहनों में लगा होता था । जो अब नहीं आता है ।

5- Four-channel, four-sensor

इस प्रकार के ABS में  चारो पहियों के लिए अलग-अलग चार  speed sensor लगे होते है। और हर एक पहिया के लिए अलग-अलग pressure valve भी लगे होते है ।  जिससे अधिकतम ब्रकिंग फ़ोर्स प्राप्त किया जा सके ।

Difference between ABS and Non-ABS system

NON-ABS वाहन  में ब्रेक लगाने  के बाद गाड़ी जल्दी स्लो डाउन हो जाती है । लेकिन फिसलने  वाले क्षेत्र में गाड़ी के फिसलने का खतरा रहता है, जिससे दुर्घटना की संभावना बढ़ जाती है । जबकि ABS सिस्टम  लैस  वाहन में अचानक ब्रेक लगाने पर भी वह नहीं फिसलता है , गाड़ी का बैलेंस  बनाते हुए स्लो डाउन होता है। गाड़ी जब  फिसलती नहीं है , तो किसी चीज से टकराने से बच जाती है । 

Conclision 

मित्रो हमें आशा है की आप अब यह जरुर समझ गए होने की ABS or anti-lock braking system or anti-skid braking system क्या है । और गाडियों में इसके लगे होने से हमें क्या फायदा होता है और यह क्यों गाडियों के लिए बहुत ही जरुरी है । यदि ABS से सम्बंदित कोई सुझाव या शिकायत हो तो हमें comment box के द्वारा जरुर अवगत कराये | 
यदि यह पोस्ट आप लोगो को पसंद आया तो अपने मित्रो , सहयोगियों के साथ इसे facebookgoogle plus पर जरुर शेयर करे ।
धन्यवाद

COMMENTS

BLOGGER: 3
Loading...
Name

android,46,apps,10,Blogging,64,Computer,79,Facebook,11,Google,24,Interesting facts,3,Mobile,59,Photoshop,5,Self Improvment,5,SEO,44,Software,73,Technology,61,whatsapp,13,Windows,20,
ltr
item
Tech GURU ka Gyan: ABS kya hai? anti lock braking system
ABS kya hai? anti lock braking system
ABS kya hota hai ? What is ABS ? और इसका प्रयोग मोटर गाडियों में क्यों होता है | ABS का पूरा नाम anti-lock braking system or anti-skid braking system
https://2.bp.blogspot.com/-G3Jhusz_iIE/WQkjKooNKtI/AAAAAAAAfis/Q5bja_PTWc4dPOs5KeL1pdBm3n5qokgtQCLcB/s640/SuperBanner_170503055221.jpg
https://2.bp.blogspot.com/-G3Jhusz_iIE/WQkjKooNKtI/AAAAAAAAfis/Q5bja_PTWc4dPOs5KeL1pdBm3n5qokgtQCLcB/s72-c/SuperBanner_170503055221.jpg
Tech GURU ka Gyan
https://www.techgurukagyan.com/2017/05/abs-kya-hai-anti-lock-braking-system.html
https://www.techgurukagyan.com/
https://www.techgurukagyan.com/
https://www.techgurukagyan.com/2017/05/abs-kya-hai-anti-lock-braking-system.html
true
3094667379472388886
UTF-8
Loaded All Posts Not found any posts VIEW ALL Readmore Reply Cancel reply Delete By Home PAGES POSTS View All RECOMMENDED FOR YOU LABEL ARCHIVE SEARCH ALL POSTS Not found any post match with your request Back Home Sunday Monday Tuesday Wednesday Thursday Friday Saturday Sun Mon Tue Wed Thu Fri Sat January February March April May June July August September October November December Jan Feb Mar Apr May Jun Jul Aug Sep Oct Nov Dec just now 1 minute ago $$1$$ minutes ago 1 hour ago $$1$$ hours ago Yesterday $$1$$ days ago $$1$$ weeks ago more than 5 weeks ago Followers Follow THIS CONTENT IS PREMIUM Please share to unlock Copy All Code Select All Code All codes were copied to your clipboard Can not copy the codes / texts, please press [CTRL]+[C] (or CMD+C with Mac) to copy