Ads Top


एंड्राइड मोबाइल फ़ोन में वायरस का पता कैसे करे


android-mobile-phone-me-virus-ka-pata-kaise-lagaye
how to check your phone for viruses Hindi लगभग सभी लोगो के पास आजकल एंड्राइड मोबाइल है, आयर अक्सर हम लोग अपने इस एंड्राइड फोन में ऐप्स डाउनलोड करते है. लेकिन क्या आप जानते है की इस प्रकार के downloading से एंड्राइड मोबिल मे वायरस भी आ सकते है. जिससे हमारे एंड्राइड मोबाइल के साथ उसमें रखे डाटा को भी नुकसान होता है.

वायरस से हमारे फोन पर बुरा असर डालता  है.  लेकिन आप कुछ सावधानियों को बरते तो आप वायरस से अपने फोन को सुरक्षित रख सकते है. मैं आज इस पोस्ट में आप लोगों को कुछ टिप्स बताने वाला हूँ जिससे आप जान जायेंगे की आपके फ़ोन में वायरस है.

अगर आपके फोन में वायरस होगा तो आपका फोन कुछ समस्या दिखाने लग जायेगा . इस पोस्ट में उन समस्यों  को बताने वाला हूँ , यदि आपके फोन में ये  समस्या है तो आपके फोन में virus हो सकता है.

यदि आपके फोन में virus  है तो आपको फोन से वायरस डिलीट करने के लिए फोन को फैक्ट्री रिसेट करना होगा जिससे आपके फोन का डेटा भी डिलीट हो जाता है.
google files go app
unlock android pattern lock without data lose
stock android


एंड्राइड मोबाइल में वायरस का पता कैसे लगाये

यदि आपको अपने फोन में यहां बताई खराबियां दिखाई दें, तो समझ जाइये की आपके फोन में भी वायरस आ गया है. तो चलिये इनके बारे में जानते है.



1. मोबाइल में आटोमेटिक आने वाले पॉप अप


यदि आपके फ़ोन में अपने आप ही पॉप अप और विज्ञापन के पॉप अप दिखाई देने लगे तो आपको फ़ोन में वायरस का attack हो गया है.

ऑनलाइन सर्फिंग के दौरान जब भी आपके स्क्रीन पर कोई ऐसा मेसेज आये कि आपके फ़ोन हो स्कैन की जरुरत है, तुरंत स्कैन करें तो ऐसे मेसेज से आप बचे और ब्राउज़र को क्लोज कर बहार निकल जाये.


2. मोबाइल में अपने आप  ऐप डाउनलोड होना


कुछ ऐप ऐसे भी होते है जो फोन में अपने आप डाउनलोड होते रहते है इसे आटोमेटिक ऐप डाउनलोडिंग भी कहते है.

अगर आपके मोबाइल में आपकी मर्जी के बिना अपने आप ही  ऐप डाउनलोड हो रहे है तो आपके फोन में वायरस हो सकता है.

ऐसे ऐप्स में वायरस होता है इससे बचने के लिए आपको फ़ोन में आटोमेटिक ऐप डाउनलोडिंग को रोकना होगा.

3. फोन की बैटरी का बैकअप कम हो जाना 


जब फोन मे वायरस आ जाते है तो वो इंटरनल रूप के हमेशा आपके files, data, आदि को अपने सर्वर तक भेजते रहते है, जिससे बैटरी की खपत ज्यादा हो जाती है, और आपके एंड्राइड मोबाइल के बैट्री का बैकअप कम हो जाता है.

वायरस से आपके फोन की बैटरी पर बुरा असर पड़ता है जिससे बैटरी की लाइफ खत्म हो सकती है और आपका फोन अधिक बैटरी खर्च कर रहा होगा. और आपका मोबाइल हीट होने  लगेगा.

मोबाइल में जब भी आप app इंस्टाल करे तो सिर्फ google play store से, किसी अन्य साईट से app डाउनलोड करने पर उनके साथ कुछ वायरस भी आ सकते है.


4. मोबाइल डाटा का आवश्यकता से अधिक खर्च होना 


अगर आपका फोन में मोबाइल  डाटा पहले से अधिक खर्च हो रहा है तो आपके फोन में  वायरस का संक्रमण हो सकता  है,  जैसे आपने कोई पैक लिया है तो वो उसकी लिमिट से पहले ही खत्म हो जायेगा.

चुकी वायरस आपके पर्सनल डिटेल को सर्वर तक मोबाइल डाटा के मदद से ही भेजता रहता है. इजिससे आपके डेटा की खपत पहले से अधिक होती है मोबाइल का बिल कई गुना बढ़ जाता है

5. एंड्राइड मोबाइल का स्लो हो जाना 


यदि आपका मोबाइल स्लो काम कर रहा है तो इस बात की पूरी संभावना है की इसमे वायरस हो सकता है. क्योकि वायरस आपके files की साइज़  को बढ़ा देते है.

जिससे जब भी आप किसी फाइल को ओपन करने को कोशिश करेंगे तो बहुत धीरे ओपन होगी या ओपेन  ही नहीं होगी

अगर आपके फोन में वायरस है तो आपके फ़ोन में ऑडियो, वीडियो फाइलें और डॉक्यूमेंट आदि आटोमेटिक डिलीट हो जाते है साथ ही कोई वीडियो है तो वो रन  नहीं होगा.


Conclusion


अगर आपके फोन में भी यहां बताई समस्याएं दिखाई दें तो संभव है की आपके मोबाइल में वायरस है. इन वायरस को जीतनी जल्दी हो सके उतनी जल्दी अपने फ़ोन से हटा दें, अन्यथा आपका मोबाइल बेकार भी हो सकता है.

इस तरह आप अपने एंड्राइड मोबाइल में वायरस का पता लगा सकते है.  अगर आपको एंड्राइड मोबाइल में वायरस का पता कैसे करें how to check your phone for viruses Hindi की जानकारी उपयोगी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें.

कोई टिप्पणी नहीं:

Blogger द्वारा संचालित.