Ads Top


quality ya quantity: blogging me safal hone ke liye kya hai jaruri


दोस्तों आज के इस पोस्ट quality ya quantity: blogging me safal hone ke liye kya hai jaruri में हम बात करेंगे की यदि आप blogging में सफल होना चाहते है, तो आपके ब्लॉग पर ज्यादा कंटेंट होने चाहिए या quality कंटेंट होने चाहिए.
क्या हमें अपने ब्लॉग पर ज्यादा मात्र में कंटेंट डालने चाहिए या कंटेंट कम हो लेकिन विजिटर के प्रॉब्लम को solve करने वाला होने चाहिए.
quality-ya-quantityblogger को कितने ब्लॉग पोस्ट कर महीने पब्लिश करने चाहिए. इसी तरह के प्रश्नों के जवाब आज के इस पोस्ट में हम आप लोगो को देंगे.

Blog post quantity vs quality

⇛ब्लॉग पोस्ट कैसे होने चाहिए?
इस प्रश्न के जवाब में हमें यह कहना है की ब्लॉग पोस्ट हमेशा ऐसा होना चाहिए जिससे विजिटर के प्रॉब्लम solve हो. यदि किसी विजिटर के प्रॉब्लम को कोई ब्लॉग पोस्ट solve नहीं कर पाता है तो वह बेकार है.
उस ब्लॉग की कोई quality नहीं है, जिससे किसी विजिटर का प्रॉब्लम solve न हो.
यदि आप बढ़िया डिजाईन का ब्लॉग शुरू करते है. बहुत ज्यादा कंटेंट लिखते है. उन सभी का seo भी करते है. जो सर्च इंजन में टॉप पर दिखता है.
इससे आप शुरू में ट्रैफिक तो जरुर पा जायेंगे लेकिन जब विजिटर आपके ब्लॉग पर आयेंगे और उनके प्रॉब्लम का सलूशन नहीं मिलेगा तो वे दुबारा आपके ब्लॉग पर नहीं आयेंगे.
कुछ समय पश्चात् ऐसा दिन आएगा जब आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक नहीं आएगी जब वह आपको सर्च इंजन में देखेगी तो किसी अन्य ब्लॉग के लिंक पर क्लिक करके उस पर चली जाएगी.
अब सवाल है की एक blogger को ब्लॉग पोस्ट के quantity पर ध्यान देना चाहिए की quality पर.
मेरा मानना है की एक blogger को यदि वह blogging में सफल होना चाहता है तो उसे ब्लॉग पोस्ट की quality पर ध्यान देना चाहिए क्योकि,
10 low quality कंटेंट से बेहतर एक high quality content मायने रखता है. इसका मतलब यह नहीं है की आप के ब्लॉग पर quantity भी ना हो.
मेरे कहने का मतलब यह है की जहां आप हर महीने 30 पोस्ट लिखते है, उसकी जगह पर आप 4 से 5 पोस्ट ही लिखिए लेकिन वह high quality content होने चाहिए.
यदि आप ऐसे कंटेंट लिखते है जिससे विजिटर के किसी समस्या का समाधान हो जाता है तो वह एक high quality कंटेंट होता है. इस प्रकार के कंटेंट को सर्च इंजन और विजिटर दोनों ही पसंद करते है.

high quality content google के मुताबिक 

हम सभी जानते है की google एक सर्च इंजन है, लेकिन यदि इसे blogger के नज़र से देखे तो google ट्रैफिक पाने का बहुत ही बेहतर साधन है.
google सर्च इंजन में ranking देने के लिए 200 factor को चेक करता है.जैसे
google duplicate content को पसंद नहीं करता है. आप इन पर google से ट्रैफिक नहीं पा सकते है.
यदि आप google में ranking पाने के लिए black hat seo का सहारा  लेते है तो वह ऐसे कंटेंट को पहचान जाता है, और उन्हें ranking नहीं देता है.
कुछ ऐसे चीज़े है जिसे सभी blogger और वेबमास्टर को अवॉयड करना चाहिए. जैसे
  • Automatically-generated content
  • Link schemes
  • Not incorporating original content
  • Cloaking
  • Sneaky redirects
  • Hidden texts or links
  • Scraped content
  • Loading pages with irrelevant keywords

अपने कंटेंट को बेहतर बनाने के लिए आप अपने ब्लॉग पोस्ट में call-to-action का इस्तेमाल कर सकते है.
विजिटर के लिए टॉपिक से जुड़े कुछ सवाल छोड़ सकते है. और उनके आंसर को  आप कमेंट बॉक्स के जरिये बताने के लिए कह सकते है.

Final word 

अंत में हमें यही कहना है की यदि कोई ब्लॉग अपने विजिटर के बजाय सर्च इंजन के लिए ब्लॉग पोस्ट लिखता है तो वह जल्दी से ग्रोथ करेगा लेकिन जल्दी ही विजिटर उसे आउट कर देंगे.
लेकिन यदि कोई विजिटर के लिए ब्लॉग पोस्ट लिख रहा है तो उसका ग्रोथ थोडा स्लो होगा लेकिन एक समय ऐसा आयेगा जब कोई उसका मुकाबला नहीं कर पायेगा. क्योकि facebook को ही देखिये facebook को facebook बनने में कई साल लग गए, और अज के समय में यह  सबसे पोपुलर सोशल networking site है.
एक blogger को हमेशा यह ध्यान देना चाहिए की  कंटेंट ही उसे फेमस कर सकते है. उसे सफल बना सकते है.
इसलिए कम लिखे लेकिन ऐसा लिखे जिसका कोई वैल्यू हो.
मुझे उम्मीद है की आज का यह पोस्ट quality ya quantity: blogging me safal hone ke liye kya hai jaruri आप लोगो को जरुर पसंद आया होगा. यदि कोई प्रश्न या समस्या हो तो आप कमेंट बॉक्स के जरिये मुझसे संपर्क कर सकते है.

कोई टिप्पणी नहीं:

Blogger द्वारा संचालित.